यूपी में शिवसेना की अलग राह:संजय राउत ने कहा-समाजवादी पार्टी से नहीं करेंगे गठबंधन, CM योगी को कहा ताकतवर नेता

मुंबई14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
संजय राउत ने सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ की है और कहा है कि वह इतने ताकतवर नेता हैं कि वह कहीं से भी चुनाव लड़ेंगे, जीतेंगे ही। - Dainik Bhaskar
संजय राउत ने सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ की है और कहा है कि वह इतने ताकतवर नेता हैं कि वह कहीं से भी चुनाव लड़ेंगे, जीतेंगे ही।

शिवसेना, उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनावों में किसी पार्टी से गठबंधन नहीं करेगी। इसका ऐलान पार्टी के प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने गुरुवार को किया। राउत ने कहा कि हम किसी के साथ गठबंधन नहीं करेंगे लेकिन हम चाहते हैं कि यूपी में परिवर्तन हो और परिवर्तन हो भी रहा है। बुधवार को राउत ने कहा था कि पार्टी महाराष्ट्र में 50-100 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने जा रही है। शिवसेना की तरह ही एनसीपी भी अपने उम्मीदवार यूपी में उतारेगी।

संजय राउत आज पश्चिमी उत्तर प्रदेश के दौरे पर आने वाले हैं। राउत ने दौरे से पहले कहा कि मैं आज वेस्टर्न यूपी जाऊंगा। वहां किसान नेता राकेश टिकैत से मिलूंगा और जानकारी लूंगा कि वो क्या चाहते हैं, अगर हमें UP में लड़ना हैं तो हमें किसानों का आशीर्वाद चाहिए।

यूपी की पार्टियों की विचारधारा हमसे अलग
राउत ने आगे कहा कि हम किसी के साथ गठबंधन नहीं करेंगे। बीजेपी, कांग्रेस, सपा किसी के साथ नहीं। सपा से हमारी विचारधार अलग है। हम चाहते हैं कि यूपी में परिवर्तन हो। अभी तक हम यूपी में चुनाव में नहीं आते थे कि हमारी वजह से बीजेपी को नुकसान न हो क्योंकि हम एक ही विचारधारा के हैं।

राउत ने CM योगी की तारीफ की
संजय राउत ने सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ की है और कहा है कि वह इतने ताकतवर नेता हैं कि वह कहीं से भी चुनाव लड़ेंगे, जीतेंगे ही। संजय राउत ने कहा कि योगी आदित्यनाथ बड़े नेता हैं और हम उनका आदर करते हैं।

महाराष्ट्र में साथ है कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना
महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस की महाविकास अघाड़ी सरकार है लेकिन अब तक तीनों पार्टयों के किसी भी नेता ने यूपी के चुनाव में फिलहाल साथ लड़ने की बात नहीं कही है। ऐसे में माना जा रहा है कि तीनों पार्टियां अगर अलग-अलग चुनाव लड़ती हैं तो एक दूसरे का ही नुकसान करेंगी।

खबरें और भी हैं...