सड़कों पर गहरे-गहरे गड़्ढे:सड़कों पर हुए गड्ढाें में भरा पानी, निकलने के लिए डाले पत्थराें से हादसे की आशंका

मुंगावली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर की मुख्य सड़कों पर गहरे-गहरे गड़्ढे हो गए हैं। इन गड्ढाें के कारण वाहन चालकों और पैदल राहगीरों को परेशानी हो रही है। परेशानी से बचने के लिए राहगीरों ने सड़क पर पत्थर डाल दिए हैं। इससे वह बारिश के समय सड़क पर पानी भरने से आसानी से निकल सकेंगे। लोगों की लापरवाही के चलते बारिश के समय दोपहिया वाहन चालकों के गिरने से हादसे की आशंका है।

शहर की सड़कों पर हुए गड्ढ़ों में लोगों ने छोटी-छोटी पत्थर की फर्सी डाल दी है। इससे लोग यहां से आसानी से निकल सकेंगे, लेकिन लोगों की इस मनमानी के कारण दोपहिया वाहन चालकों, चार पहिया वाहन चालकों, ऑटो आदि वाहन चालकों को परेशानी होगी। बारिश के समय सड़क पर पानी भरने से यह गड़्ढे दिखाई नहीं देंगे। इससे यहां से निकलने वाले दोपहिया वाहन चालकों को गड्ढ़ों में भरे पानी में डूबे पत्थर दिखाई नहीं देंगे।

इससे यहां से निकलने वाले दोपहिया वाहन चालक अन बैलेंस होकर गिरकर घायल हो जाएंगे। वहीं सबसे अधिक परेशानी दोपहिया वाहनों पर बैठी महिला सवारियों को होगी। गड्ढ़ों के कारण वाहन के पीछे बैठी महिलाएं अन बैलेंस होकर गिर कर घायल हो जाएंगी।

गड्‌ढ़ों के कारण लोगों को होती है परेशानी
शहर की मुख्य सड़क पर हुए गड्ढ़ों से वाहन चालकों को यहां से निकलने में परेशानी होती है। वाहनों में टूट फूट तो होती ही है। शहर में बार-बार जाम की स्थिति निर्मित होती है। गड्ढ़ों में पानी भरने और कीचड़ होने से वाहन चालकों को परेशानी होती है।

गड्ढ़ों के कारण वाहनों के टायर पंचर होने और वाहनों में टूटफूट होने से वाहन चालकों को आर्थिक नुकसान होता है। साथ ही गड्ढ़ों में से जब वाहन निकलते हैं तो पानी उचटने से पास से निकलने वाले पैदल राहगीरों के कपड़े खराब हो जाते हैं।

शहर में जहां-जहां भी मुख्य मार्ग पर गड़्ढे हो रहे हैं। उन गड्ढ़ों की जल्द मरम्मत करवाई जाएगी। इससे लोगों को यहां से निकलने में परेशानी नहीं होगी। -तरुण कुमार भट्‌ट, सीएमओ, मुंगावली

इन स्थानों पर हुए गड़्ढे बस स्टैंड से पुलिस थाने तक इस मुख्य मार्ग में कई गड़्ढे हैं। अदालत के सामने 15 फीट लंबा और 5 फीट चौड़ा गड्‌ढ़ा हो गया है। यहां पर गड़्ढे से बचने के चक्कर में कई बार हादसा हो जाता है। वहीं कई बार दोपहिया वाहन फिसल कर गिर जाते हैं।

इससे वाहन चालक चोटिल भी हो जाती हैं। बस स्टैंड से इमली चौराहे तक यह मार्ग दिन भर व्यस्त रहता है। सुबह 4 बजे से ही इस रोड पर रेलवे स्टेशन के लिए ऑटो चलना शुरू हो जाते हैं। इसके साथ ही सुबह रेलवे स्टेशन तक लोग मॉर्निंग वॉक के लिए निकलते हैं।

खबरें और भी हैं...