आज तय होगा कौन बनेगा चंदेरी नपा का अध्यक्ष:बीजेपी और कांग्रेस के पास बराबर पार्षद, एक निर्दलीय के हाथ में फैसला

अशोकनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चंदेरी नगर पालिका के 21 वार्डों में से बीजेपी और कांग्रेस के पास पार्षदों की बराबरी है । जबकि एक पार्षद के हाथ में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष बनाना है । वह निर्दलीय प्रत्याशी ही फैसला करेगा कि, चंदेरी नगर पालिका अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का ताज किसके सर सजाना है । हालांकि दोनों ही पार्टी अपने अपने अध्यक्ष और उपाध्यक्ष बनाने की ताल ठोक रही हैं । चंदेरी में कांग्रेस ने बढ़त बनाकर 10 पार्षद बना लिए थे, जबकि 9 पर बीजेपी ने कब्जा जमाया था और दोपहर निर्दलीय थे । लेकिन एक निर्दलीय बीजेपी में शामिल हो गया है, अब दोनों ही पार्टियों की बराबरी हो गई है ।

कांग्रेस के विधायक का गढ

अशोकनगर जिले की 3 विधानसभा में से केवल चंदेरी विधानसभा में कांग्रेस का विधायक है । यहां पर कांग्रेस के विधायक गोपाल सिंह चौहान (दिग्गी राजा) का गढ़ माना जाता है । यही वजह रही कि, उन्होंने बीजेपी से भी अधिक अपने पार्षद बना लिए । लेकिन बीजेपी ने एक निर्दलीय को शामिल करके बराबरी कर ली है । चंदेरी विधायक कॉन्ग्रेस का नगर पालिका अध्यक्ष बनाने की पूरी कवायद में लगे हुए हैं ।

राज्य मंत्री का दौरा

नगर पालिका में पार्षदों के परिणाम सामने आने के बाद से ही राज्यमंत्री बृजेंद्र सिंह यादव का चंदेरी में आना जाना लगा हुआ है । वह लगातार क्षेत्र के नेताओं से मिल रहे हैं, यहां तक कि उनका यह भी मानना है कि जिस तरह से सभी जगह भाजपा के अध्यक्ष उपाध्यक्ष बने हैं उसी तरह चंदेरी में भी बनाएंगे । लेकिन चंदेरी वर्तमान समय में कांग्रेस का गढ़ माना जाता है, ऐसे में राज्यमंत्री की पैंठ और कांग्रेस के गढ़ में दोनों के बीच में कड़ा मुकाबला होगा ।

अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के लिए किस के सर पर ताज सजेगा यह केवल निर्दलीय प्रत्याशी के हाथ में ही है । जिसके सर पर निर्दलीय प्रत्याशी का हाथ रखा हो जाएगा, उसी के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष बनेंगे, 11 बजे से चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी लेकिन चंदेरी में फिलहाल किसी का नाम मैंडेट में जारी नहीं किया है ।

खबरें और भी हैं...