नाबालिग के साथ दुष्कर्म:दुष्कर्म के आरोपी की जमानत निरस्त- हरियाणा में 16 वर्षीय नाबालिग से किया था दुष्कर्म

अशोकनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नाबालिग के साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपी की जमानत न्यायालय ने निरस्त कर दी है। यह फैसला पाक्सो एक्ट विशेष न्यायाधीश अमित भूरिया ने सुनाया है। मीडिया सेल प्रभारी आजम मोहम्‍मद ने बताया कि 18 फरवरी की रात करीबन 10 बजे फरियादी अपनी पत्नी, लड़की पीड़िता व अन्य बच्चों के साथ एक ही कमरे में सो रहा था। कमरे में दरवाजे नहीं थे।

सुबह करीबन 6 बजे फरियादी की पत्नी की नींद खुली तो उसे पीड़िता कमरे में नहीं दिखी तब उसने अपने पति / फरियादी को जगाया और पीड़िता के बारे में बताया तो उसने व उसके पति ने पीड़िता को घर में, आसपास गांव में व रिश्तेदारी में तलाश किया किंतु पीड़िता का कहीं कोई पता नहीं चला। फरियादी की पीड़िता उससे व घरवालों से छुपकर गांव के राजकुमार केवट से बातें करती थी।

इसके बाद फरियादी ने थाना बहादुरपुर में अपनी लड़की को अज्ञात व्यक्ति द्वारा बहला फुसलाकर भगा ले जाने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने पीड़िता को 10 मार्च को समसपुर माजरा हरियाणा से दस्तयाब किया। जहां गांव में पानी की टंकी के पास प्लास्टिक की पन्नी से झोपड़ी बनाकर उसे वहां रखा था और उसके साथ दुष्कर्म किया।

आरोपी राजकुमार पुत्र बैजनाथ सिंह केवट निवासी घाटबमुरिया थाना बहादुरपुर के जमानत आवेदन को न्यायालय ने निरस्त कर दिया। अभियोजन की ओर से विशेष लोक अभियोजक सुदीप शर्मा ने तर्क प्रस्‍तुत किए।

खबरें और भी हैं...