कार एक्सीडेंट में घायल युवक की मौत:परिजनों ने दिल्ली दरवाजे पर शव रखकर किया चक्का जाम, हत्या का मामला दर्ज करने की मांग पर अड़े

अशोकनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सड़क हादसे में घायल हुए युवक की उपचार के दौरान मौत होने के बाद जैसे ही एंबुलेंस वाहन से शव को लेकर चंदेरी आए तो परिजन सबको एक ठेले पर रखकर दिल्ली दरवाजे पर पहुंच गए। शव को सड़क पर रखकर चक्का जाम कर दिया गया। यह चक्का जाम 8 बजे से प्रारंभ हुआ और लगभग 9:30 तक पुलिस की समझा इसके बावजूद भी परिजन मानने को तैयार नहीं हुए। दोनों और वाहनों की कतारें लग गई।

परिजनों का कहना है कि, हादसे के 1 दिन पहले राहुल चतुर्वेदी नामक युवक आया था और उसने उनके लड़के को जान से मारने की धमकी दी थी। जिसके दूसरे दिन उसी की कार से यह हादसा हुआ है उनका कहना है कि, यह जानबूझकर किया गया है। परिजन देर रात तक हत्या का मामला दर्ज कराने की मांग पर अड़े रहे।

बता दें, चंदेरी के बस स्टैंड के पास 29 जुलाई को 20 वर्षीय विजय उर्फ बारूद नामक युवक चाट का ठेला लगाए हुए था। तभी सामने से आ रही एक तेज रफ्तार कार ने युवक को जोरदार टक्कर मार दी थी । हादसा इतना तेज हुआ के युवक का ठेला पूरी तरह से टूट गया था साथ ही युवक को भी गंभीर चोटें आई थी। जिसे स्थानीय लोगों ने उपचार के लिए चंदेरी सिविल अस्पताल पहुंचाया था, लेकिन उसकी हालत गंभीर होने पर भोपाल रेफर कर दिया था। वहां पर उपचार चलने के बाद युवक की बुधवार को मौत हो गई जैसे ही युवक का शव चंदेरी पहुंचा तो चक्का जाम कर दिया गया ।