नक्सलियों की नापाक हरकत:सड़क निर्माण के विरोध में नक्सलियों ने दो मशीनरी को जलाया, बैनर-पर्चे टांगे

बालाघाट2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आग से जला रखा ट्रैक्टर। - Dainik Bhaskar
आग से जला रखा ट्रैक्टर।

बालाघाट में तीन दिन पहले बिरसा के मछूरदा चौकी के कोरका गांव में रोड रोलर को आग के हावले करने का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि नक्सलियों ने किरनापुर क्षेत्र के हट्टा थाना अंतर्गत गोदरी चौकी के वनग्राम बोदलझोला में एक ट्रैक्टर और एक सीमेंट-कांक्रीट मिक्सचर मशीन में आगजनी कर दी।

उक्त घटना में मिले पर्चे व बैनर में नक्सलियों ने वही बात दोहराई है, जिसका जिक्र तीन दिन पहले कोरका घटना में किया था। नक्सलियों एक बार फिर महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में अपने प्रमुख नेता जीवा उर्फ मिलिंद तेलतुम्बडे सहित 26 साथियों की हत्या के विरोद में 10 दिसंबर को महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ राज्य में बंद का पुनः आह्वाहन किया है।

जानकारी के अनुसार, कोरका घटना के दौरान नक्सलियों ने मजदूरों व ठेकेदार को सरकारी काम बंद रखने की चेतावनी दी थी। इसके बाद भी काम जारी रहने पर मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र व छत्तीसगढ़ जोनल कमिटी के नक्सलियों ने इस घटना को अंजाम दिया है।

सोमवार शाम हुई घटना के बाद बोदलझोला के आदिवासी ग्रामीण दहशत में हैं। बताया गया कि घटना सोमवार शाम लगभग 5 से 6 बजे के बीच है, जब कलकाता से बोदलझोला से के बीच करीब 15 किलोमीटर पहाड़ी पर सीमेंट सड़क निर्माण में मजदूर कार्य कर रहे थे।

इस दौरान बड़ी संख्या में नक्सलियों ने पहुंचकर सड़क निर्माण में लगी दो मशनरी को आग के हावले कर दिया। इस दौरान वहां कार्यरत मजदूर डर कर भाग गए। किरनापुर थाना प्रभारी ने बताया कि उक्त घटना किरनापुर के किन्ही पुलिस चौकी और हट्टा की सीमा पर हुई है। मौका स्थल में कोरका घटना की तर्ज पर नक्सलियों ने रस्सी से लाल रंग का बैनर और कुछ पर्चे टांगे हैं, जिन्हें जब्त कर लिया गया है। घटना के बाद पुलिस ने इलाके में सर्चिंग तेज कर दी है।

नक्सलियों द्वारा टांगा गया बैनर।
नक्सलियों द्वारा टांगा गया बैनर।

दहशत ऐसी की दूसरे गांव पलायन कर रहे ग्रामीण

मौके से मिली जानकारी के अनुसार, बोदलझोला में हुई घटना के बाद वहां के आदिवासी ग्रामीण इतनी दहशत में हैं कि वे बोदलझोला से चार किमी दूर शिकारीटोला पलायन करने की तैयारी में हैं। हालांकि, उनके पलायन की दूसरी बड़ी वजह बोदलझोला में आज भी बिजली, सड़क, पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं का अभाव है। इस खबर की फिलहाल एस डी ओ पी लांजी के अनुसार वन एवम राजस्व विभाग की समझाने फिलहाल पलायन रुक गया है।

सोमवार को देर शाम की घटना है लगभग 15 से 20 नक्सलियों के द्वारा कोलकाता बोधलझोला सड़क निर्माण कार्य में उपयोग में आ रही मिक्सर मशीन एवं ट्रैक्टर को आग के हवाले कर दिया है। घटना चुकी पहाड़ी की है एवं मौके से मजदूर भाग चुके हैं और ठेकेदार द्वारा भी अब तक रिपोर्ट नहीं कराई गई है।

लांजी एसडीओपी दुर्गेश आर्मो ने बताया कि घटना के बाद नक्सलियों की आसपास में उपस्थिति होने की वजह से उन्हें पकड़ने के लिए पुलिस सर्चिंग कर रही है। नक्सलियों द्वारा बैनर और पोस्टर लगाए गए हैं, जिसमें 10 तारीख के बंद कर का उल्लेख है।