स्कूल के लिए जान का जोखिम:बालाघाट जिले में बारिश के बीच उफनते नाले को पार कर निकल रहे विद्यार्थी; VIDEO

बालाघाट2 महीने पहले

जिले के परसवाड़ा क्षेत्र में स्कूल बच्चों का वीडियो सामने आया है। इसमें बच्चे स्कूल जाने के लिए उफनते नाले को पार कर रहे हैं। नाले में करीब तीन फीट पानी है। ऐसे में एक ग्रामीण विद्यार्थियों को कंधे पर बैठाकर और हाथ पकड़कर नाला पार करा रहा है। वीडियो परसवाड़ा के वनांचल ग्राम नाटा के पंडाटोला और डंडईझोला के बीच का है।

पंडाटोला और डंडईझोला के बीच स्थित नाले पर पुलिया नहीं है। बारिश के दिनों में लोगों को नाले में उतरकर उसे पार करना पड़ता है। वीडियो में दिख रहे बच्चे डंडईझोला के रहने वाले हैं। यहां पुल-पुलिया नहीं होने से बच्चों को ऐसे ही नाला पार करना पड़ता है। ऐसे में बच्चों की यूनीफाॅर्म और किताबें भीग जाती हैं। कई बार नाले का बहाब ज्यादा होने पर उसे पार करने के लिए लोगों को घंटों इंजतार करना पड़ता है। ऐसे में नाला पार करने में हादसे की आशंका भी रहती है।

कई बार कहने पर भी नहीं बना पुल

ग्राम पंचायत नाटा के सरपंच कुवरसिंह मेरावी का कहना है कि हर वर्ष बारिश के दिनों मे डंडईझोला से नाटा, चंदना और परसवाड़ा में पढ़ाई के लिए जाने वाले छात्रों को जान जोखिम लेना पड़ता है। शासन-प्रशासन से पुल निर्माण के लिए कई बार निवेदन कर चुके हैं। पिछले सप्ताह नाले में तेज बहाव में फंसे स्कूली छात्रों को ग्रामीणो ने कंधे पर बिठाकर नाले से पार कराया, जिसका वीडियो भी अभी सामने आया है।

खबरें और भी हैं...