राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर:गांवों को आत्मनिर्भर बनाने और मतांतरण रोकने पर जोर

बड़वानी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा का मुंबई में तीन दिनी राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर 24 से 26 जून तक हो रहा है। इस सम्मेलन में राज्यसभा सांसद डॉ. सुमेरसिंह सोलंकी व सांसद गजेंद्रसिंह पटेल ने गांवों को आत्मनिर्भर बनाने व मतांतरण रोकने पर जोर दिया। राज्यसभा सांसद डॉ. सोलंकी ने पीपीटी के माध्यम से गांवों को आत्मनिर्भर बनाने का प्रजेंटेशन दिया।

भाजपा का प्रशिक्षण शिविर मुंबई के रामभाऊ म्हाळगी प्रबोधिनी केंद्र में हाे रहा है। इस प्रशिक्षण शिविर के प्रभारी के रूप में के विभिन्न सत्रों में अनुसूचित जनजाति मोर्चे के कार्यकर्ताओं के संगठनात्मक दृष्टि से कार्यकर्ता विकास, राष्ट्रीय जनजातीय विषयों का चिंतन व संवाद के विभिन्न सत्रों के माध्यम से कार्यकर्ताओं को संगठनात्मक दृष्टिकोण से मार्गदर्शन मिलेगा।

शनिवार को राज्यसभा सांसद ने पलायन, रोजगार, आत्मनिर्भर, पर्यावरण संरक्षण, भाजपा सरकार की विभिन्न जनहितैषी योजनाओं के बारे में बताया। वहीं लोकसभा सांसद ने भी संबोधित किया। उन्होंने भारत में बढ़ती कम्यूनिष्ठ विचारधारा साम्यवाद, नक्सलवाद, पूंजीवाद, समाजवाद, आतंकवाद, जनजातियों को धर्मांतरण, मतांतरण का कार्य देश के कई राज्यों में हो रहा है।

शिविर राष्ट्रीय संगठन मंत्री वी सतीश के मार्गदर्शन में हो रहा है। शिविर में राष्ट्रीय अध्यक्ष अजजा मोर्चा समीर उरोच, केंद्रीय मंत्री डॉ. भारती पंवार, विश्वेश्वर दुइ, ट्रायफेड चैयरमेन रामसिंह राठवा, राष्ट्रीय महासचिव दिलीप सैकिया मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...