यात्रा में हजारों की संख्या:डेढ़ किमी लंबी गौरव यात्रा का 40 से ज्यादा स्थानों पर फूल बरसाकर किया स्वागत

बड़वानीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
50 व 51 गौरव यात्रा में कलश लेकर शामिल हुई महिलाएं। - Dainik Bhaskar
50 व 51 गौरव यात्रा में कलश लेकर शामिल हुई महिलाएं।

जिले के स्थापना दिवस पर निकाली गई गौरव यात्रा, बस स्टैंड से शुरू हुई यात्रा,पीजी कॉलेज ग्राउंड पहुंची,यहां मुख्य कार्यक्रम हु डेढ़ किमी लंबी यात्रा में हजारों की संख्या में कलश लेकर चल रही महिलाएं, स्वागत में जगह जगह फूलों की वर्षा करते लोग, बड़े ट्राले पर अघोरी नृत्य करते कलाकार, भोले को मनाते हुए पार्वती, भजन करते लोग, आदिवासी नृत्य करते हुए युवतियां।

ये नजारा था बुधवार को बड़वानी जिले के स्थापना दिवस पर निकाली गई गौरव यात्रा का। बस स्टैंड से लेकर एसबीएन पीजी कॉलेज तक गौरव यात्रा निकाली गई। इसमें शहर सहित जिले के पांच हजार से ज्यादा लोग शामिल हुए। कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा ने बताया शाम 4 बजे राजघाट पहुंचकर मां नर्मदा की महाआरती की गई।

शाम 5.30 बजे बस स्टैंड से गौरव यात्रा की शुरुआत हुई। जो कोर्ट चौराहा, कारंजा चौराहा होते हुए पीजी कॉलेज ग्राउंड पर पहुंची। रात 7 बजे से कॉलेज ग्राउंड पर मुख्य कार्यक्रम शुरू हुआ। यहां लोक नृत्य के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए। साथ ही गायक आनंदीलाल भावेल ने आदिवासी गीतों की प्रस्तुति दी। वहीं टिटगारिया ग्रुप द्वारा भी प्रस्तुति दी गई।

जगह-जगह तैनात किया सुरक्षा बल
बस स्टैंड से लेकर पीजी कॉलेज तक गौरव यात्रा का 40 से ज्यादा स्थानों पर स्वागत किया गया। कहीं फूलों की बारिश की गई तो कहीं पर पेयजल की व्यवस्था की गई। वहीं सुरक्षा की दृष्टि से जगह-जगह पुलिस बल तैनात किया गया था।

सात दिन तक ये कार्यक्रम होंगे आयोजित

  1. गुरुवार को सुगम संगीत संध्या का आयोजन रात 7 बजे से किया जाएगा। { शुक्रवार को रात 7 बजे शिवकुंज में सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे।
  2. शनिवार को रात 7 बजे जिले की विभिन्न मंडलियों द्वारा निमाड़ी लोकगीतों की प्रस्तुति दी जाएगी। रविवार को रात 7 बजे जनजातीय लोक नृत्य,राजस्थानी लोग नृत्य व गरबा,भगोरिया की प्रस्तुति होगी।
  3. सोमवार को रात 7 बजे से महाविद्यालीन संस्थाओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति।
  4. मंगलवार को रात 7 बजे से कवि सम्मेलन व पुरस्कार वितरण कार्यक्रम होगा।
खबरें और भी हैं...