कार्यशाला:आज की मेहनत कल खुशियां लेकर आएगी

बड़वानी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लगातार विद्या ध्यान और ज्ञानार्जन में लगे रहने वाले व्यक्ति को विद्यार्थी कहते हैं। लक्ष्य पर ध्यान देने, परिश्रम करने और सृजन के गुणों से युक्त छात्र ही जीवन में सफल होते हैं। उदासी व क्रोध से मुक्त होकर प्रसन्नता और उत्साह से युक्त होकर पढ़ाई करें क्योंकि दुःखी या क्रुद्ध मन से की गई पढ़ाई चट्टान पर की गई जुताई के समान कर्म है।

पंधाना कॉलेज के डॉ. प्रवीण मालवीया ने विद्यार्थियों से ये बातें कही। एसबीएन पीजी कॉलेज में कॅरियर सेल द्वारा शनिवार को विशेष मार्गदर्शन कार्यशाला आयोजित की गई। इसमें करीब 100 विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया। उन्होंने कहा कि कॉलेज जीवन का प्रत्येक पल कला-कौशल सीखने और त्रुटियों को दूर कर स्वयं को निखारने के लिए होता है।

हम कुछ बनकर समाज व देश की सेवा कर सकते हैं। उन्होंने स्वरचित कविता सुनाते हुए विद्यार्थियों को प्रेरित किया कि जिंदगी एक परीक्षा है पास करो, हर दिन तुम कुछ खास करो, जीवन में सफलता जरूर मिलेगी, अपने आप पर विश्वास करो। इस दौरान स्वाति यादव, दिव्या पाटील, प्रीति गुलवानिया, किरण वर्मा, साक्षी परमार, तेहरीन खान, नमन मालवीया, डॉ. मधुसूदन चौबे सहित विद्यार्थी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...