समस्या:तेज हवा चलने से तार टूटकर डंपर पर गिरा

निवालीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तार टूटने के बाद टॉर्च की रोशनी  में सुधार करते कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
तार टूटने के बाद टॉर्च की रोशनी में सुधार करते कर्मचारी।

ग्रामीण क्षेत्र में बिजली कंपनी की अघोषित बिजली कटौती से लोग परेशान थे। अब आंधी चलते से तार टूटने की समस्या शुरू हो गई है। सेंधवा रोड पर सोमवार रात10.30 बजे आंधी चलने से बिजली का तार टूटकर रोड पर खड़े डंपर के ऊपर गिर गया। गनीमत रही कि तार टूटने के बाद कोई भी उसकी चपेट में नहीं आया। आधे घंटे बद कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर सुधार कार्य किया।कर्मचारियों को मोबाइल की टॉर्च में तार जोड़ने का काम करना पड़ा। तार टूटने के बाद नीचे खड़े डंपर पर यह तार आकर लटक गया। बिजली सप्लाय चालू होने से कोई भी व्यक्ति इसकी चपेट में आने से गंभीर घायल हो सकता था।

लोगों ने लाइनमैन व अन्य कर्मचारियों को सूचना देने की कोशिश की लेकिन किसी के पास लाइनमैने के नंबर नहीं थे। ऐसी स्थिति में भास्कर संवाददाता ने मौके पर पहुंचकर बिजली कंपनी के लाइनमैन जगदीश महाराज को इसकी सूचना दी। कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर बिजली सप्लाय बंद किया। इससे आधे नगर में बिजली गुल हो गई। अंधेर में बगैर सुरक्षा संसाधन के मोबाइल टाॅर्च की रोशनी में तार जोड़ने का काम किया गया। लेकिन बिजली सप्लाय सुबह 9 बजे बाद ही शुरू हुआ।

कर्मचारी बिना संसाधन के भी एलटी लाइन की तारों में सुधार करते देखे। उनके हाथ में दस्ताने नहीं थे, खंभे पर चढ़ने के लिए सीढ़ी नहीं थी। किसी के भी सिर पर हेलमेट नहीं लगा था। कर्मचारी जान खतरे में डालकर बिजली सुधार कार्य कर रहे है।

खबरें और भी हैं...