राहत मिली सुविधा:वार्ड 12 की गलियां हुई अंधेरे से मुक्त 10 से ज्यादा पोल पर लगवाए एलईडी

निवाली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वार्ड 12 में स्ट्रीट लाइट लगाते हुए कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
वार्ड 12 में स्ट्रीट लाइट लगाते हुए कर्मचारी।

नगर परिषद द्वारा वार्ड क्रमांक 12 में डाक बंगले वाली पीछे गली में कई साल से स्ट्रीट लाइट लगवाने का काम शुरू किया है। पहले यहां स्ट्रीट लाइट न होने से अंधेरे में लोगों को आवाजाही करना पड़ रही थी। भास्कर ने लोगों की समस्या को लेकर खबरें प्रकाशित की थी। इस पर अब परिषद द्वारा स्ट्रीट लाइट लगवाने का काम शुरू किया गया है।

शनिवार को वार्ड में 4 घंटे तक काम चला। इस दौरान 12 पोल पर 1200 फीट लंबी 25 एमएम की केबल डालकर 10 एलईडी लैंप लगवाए हैं। साथ ही इस पूरे क्षेत्र को अंधेरा मुक्त करने का काम किया है। क्षेत्र में रहने वाले लोगों को लंबे समय से अंधेरे में आवाजाही करना पड़ रही थी। बारिश के दिनों में दुर्घटना का खतरा बना रहता था।

लोग टार्च के सहारे आवाजाही करते थे। कुछ समय पहले यहां गड्ढे में भरे पानी में एक व्यक्ति गिर गया था। इसके चलते लोग स्ट्रीट लाइट लगवाने की मांग कर रहे थे, जो अब पूरी होगी। नगर परिषद के कर्मचारियों ने बताया कि स्ट्रीट लाइट लगवाने का काम शुरू किया है।

जरूरत के अनुसार केबल डालकर लैंप लगवाए जा रहे हैं, ताकि बारिश के दौरान कोई दुर्घटना न हो। साथ ही लोगों को पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था मिले। नगर के अन्य क्षेत्रों में भी प्रकाश व्यवस्था दुरुस्त की जाएगी।

अंधेरे में वारदात को अंजाम देते हैं बदमाश

सेंधवा-खेतिया मुख्य मार्ग से लगे कस्तूरबा काॅम्प्लेक्स में 50 से ज्यादा दुकानें हैं। दुकानों के पीछे प्रकाश व्यवस्था न होने से अंधेरा पसरा रहता है। इसके चलते पूर्व में 6 से ज्यादा बार बदमाशों ने अंधेरे का लाभ उठाकर वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस बल द्वारा गश्त के दौरान अंधेरा होने से यहां पेड़-पौधों के बीच चोर अंधेरे का लाभ उठाकर किराना व अनाज के साथ अन्य दुकानों पर चोरी को अंजाम देते हैं।

व्यापारियों ने बताया कि कॉम्प्लेक्स के पीछे एलईडी फाेकस लग जाए, तो चोरी की घटनाओं पर रोक लग सकेगी। आश्रम परिसर में पढ़ने वाली बालिकाओं को भी स्ट्रीट लाइट का लाभ मिलेगा। पूरे परिसर तक लाइट होने से यहां चोरी व अन्य घटनाओं पर राेक लगेगी।

सर्वे कर पोल पर लगाएंगे स्ट्रीट लाइट
डाक बंगले के पिछले हिस्से में बसे लोगों को मार्ग के साथ घर तक आवाजाही करने व बाजार आने-जाने में अंधेरे में परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। बारिश में जीव-जंतुओं के निकलने के साथ पानी जमा होने से आवाजाही में दुर्घटना की आशंका रहती है।

वार्ड क्रमांक 11 के कुछ हिस्से में स्ट्रीट लाइट लगवाने के लिए सर्वे किया जाएगा। सर्वे के बाद बिजली कंपनी के जरिए नगर परिषद केबल व एलईडी लैंप लगवाएगी।

मेंटेनेंस के दौरान पांच घंटे की कटौती
बिजली कंपनी द्वारा मेंटेनेंस के चलते सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक पांच घंटे बिजली कटौती की गई। इसमें बिजली कटौती के दौरान ग्रीड के अलावा अन्य क्षेत्रों में सुधार कार्य किया गया। इस बीच नगर परिषद के इलेक्ट्रीशियन आमीन कुरैशी ने कटौती के दौरान ही वार्ड क्रमांक 12 के 10 से ज्यादा पोल पर एलईडी लैंप लगाकर स्ट्रीट लाइट व्यवस्था दुरुस्त की। इससे लोगों को आवाजाही में सुविधा होगी।

वार्ड 12 में आधे से ज्यादा क्षेत्र में लगाए लैंप
वार्ड क्रमांक 12 में आधे से ज्यादा क्षेत्र में स्ट्रीट लाइट लगने से बालक स्कूल के पीछे की गली तक मार्ग पर रोशनी हो गई है। लैंप लगने से वार्ड 12 की गलियां और सड़कें अंधेरे से मुक्त हो गई हैं। शनिवार को दिन में कर्मचारियों की टीम ने केबल डालकर लैंप लगवाने का काम कराया।

खबरें और भी हैं...