कपास-तुअर के बीच गांजे की खेती:चाचरिया के कोलखेड़ा में पुलिस ने 37 लाख के पौधे जब्त किए, आरोपी गिरफ्तार

सेंधवा25 दिन पहले

नशा मुक्ति अभियान के तहत पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार शुक्ला के निर्देशन में पुलिस ने लगातार नशे के अवैध कारोबार पर कार्रवाई की जा रही हैं। अभियान के तहत ग्रामीण थाना क्षेत्र के चाचरिया चौकी पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर ग्राम कोलखेडा के पटेल फलिया में रमेश पिता इड़ा के खेत में दबिश देकर कपास और तुवर की फसल के बीच लगा रखे अवैध गांजे के पौधो को जब्त किया है।

एसडीओपी कुंदन सिंह मंडलोई ने बताया कि पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर आरोपी रमेश पिता इड़ा निवासी कोलखेड़ा के खेत में दबिश देकर अवैध रूप से लगाए गांजे के 249 पौधे जिनका वजन करीब 377 किलो 980 ग्राम है। जब्त गांजे के पौधों का बाजार मूल्य करीब 37 लाख 79 हजार 800 रुपए आंकलन किया गया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार किया है।आरोपी से पूछताछ की जा रही है। आरोपी के पूर्व आपराधिक रिकार्ड की जानकारी जुटाई जा रही है।

पुलिस की इस कार्रवाई में थाना प्रभारी विकास कपिस, चाचरिया चौकी प्रभारी जानी चारेल, एसआई श्रीराम मंडलोई, एएसआई राकेश मंडलोई, संजय पांडे, दीपक ठाकुर, चंद्रशेखर पाटीदार, प्रधान आरक्षक अजय यादव, आरक्षक बल बहादुर, गेंदिया डावर, महिला आरक्षक जानू वास्कले का सराहनीय योगदान रहा।

ग्रामीण थाना पुलिस ने की थी बड़ी कार्रवाई

पिछले माह ग्रामीण थाना पुलिस और वरला पुलिस ने अलग-अलग कार्रवाई करते हुए बड़ी मात्रा में गांजे के पौधे जब्त किए थे। ग्रामीण थाना क्षेत्र के झोपाली,कालापाट,बोरली और वरला थाना क्षेत्र के दुधखेड़ा में पुलिस ने लाखो रु के गांजे के पौधे जब्त किए है। एसडीओपी कुंदन सिंह मंडलोई ने बताया कि सेंधवा ग्रामीण थाना पुलिस अब तक 8 खेतों में दबिश देकर 10 क्विंटल 29 किलो 580 ग्राम गांजा जब्त किया है। जिसकी कीमत 1 करोड़ 25 लाख 78 हजार रुपए है।

खबरें और भी हैं...