• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Betul
  • People Told The Problems Of Drainage, Drain And Road, The Councilors Said Will Make Arrangements

दैनिक भास्कर के रूबरू कार्यक्रम में लोगों ने बताईं समस्याएं:लोगों ने ड्रेनेज, नाली और सड़क की समस्याएं बताईं, पार्षदों ने कहा- दुरुस्त कराएंगे व्यवस्था

बैतूल19 दिन पहले

आम जनता की समस्याओं से जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों को रूबरू कराने के लिए जनता और जनप्रतिनिधियों के संवाद कार्यक्रम रूबरू में आज कई वार्डो की समस्याएं सामने आई। बैतूल में आयोजित दैनिक भास्कर के रूबरू कार्यक्रम में नगरपालिका उपाध्यक्ष महेश राठौर खास तौर पर मौजूद थे। उनके अलावा 7 वार्डों के पार्षद और उनके प्रतिनिधियों ने आयोजन में भाग लिया।

बैतूल में आज रूबरू कार्यक्रम प्रताप वार्ड स्तिथ कलार मंगल भवन में आयोजित किया। मौके पर कृष्ण वार्ड के पार्षद तरुण ठाकरे, तिलक वार्ड के पार्षद नफीस खान, आर्य वार्ड की पार्षद सबीना खान, मोती वार्ड की पार्षद कल्पना धोटे, महावीर की पार्षद वर्षा बारस्कर,मालवीय वार्ड की पार्षद कायम कावरे, अंबेडकर वार्ड के पार्षद एवम नपा उपाध्यक्ष महेश राठौर, प्रताप वार्ड की पार्षद रजनी वर्मा के प्रतिनिधि राजेश वर्मा मौजूद रहे।

यह आई सामने समस्या

न्यू इंदिरा वार्ड के निवासी डैनी गौड़ ने बताया की 132 केवी सब स्टेशन के पास पिछले 20 साल से रह रहे हैं। वहां कोई विकास कार्य नहीं हुआ। आवागमन की सड़कें कच्ची हैं। मार्गों पर जलनिकासी न होने से पानी भरा है। सफाई करने कोई नहीं पहुंचता। स्ट्रीट लाइट के खंबे न होने से अंधेरे का साम्राज्य फैला है।

प्रताप वार्ड के अधिवक्ता अजय सोनी ने मुख्य समस्या स्ट्रीट डॉग्स की बताई। उन्होंने कहा की गलियों में आवारा कुत्ते और आवारा मवेशियों से अक्सर दुर्घटनाओं का भय बना रहता है। सड़को पर अंधेरा फैले रहने से लोगो को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

कृष्ण वार्ड के युवा रामकुमार बारस्कर ने बताया की हर साल बारिश में सड़को पर पानी भर जाता है। सड़कें ताल तलैया बन जाते हैं। बारिश थमने पर सड़कें कीचड़ से सरोबार हो जाती है। ड्रेनेज का सिस्टम सही बनाया जाए और नालियों का गहरीकरण किया जाए।

अंबेडकर वार्ड बालाजी विहार कालोनी के राजेंद्र राठौड़ ने बताया की उन्होंने साल 2013 14 में नया मकान बनाया था नक्शा स्वीकृत कराया। 40 हजार रु. विकास शुल्क अदा किया लेकिन घर के सामने न तो नाली है और न ही सड़क और स्ट्रीट लाइट। कई बार आवेदन दिए पर समस्या का कोई हल नहीं हुआ।

सड़कें-नालियां तोड़ दीं

आर्य वार्ड के पूर्व पार्षद सादिक मंसूरी ने शहर के अंदर अमृत योजना की पाइप लाइन के लिए खोदी गईं सड़कों और नालियों का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा की सड़कें, नालियां तोड़ दी। लेकिन उनकी दोबारा रिपेयरिंग नहीं की। अभिनंदन सरोवर बड़ा तालाब के सौंदर्यीकरण को अधूरा छोड़ दिया।

प्रताप वार्ड के भरत लाला मालवीय ने नालियों की समस्या से पार्षदों को रूबरू कराया। उन्होंने कहा की दो सौ घरों का पानी मेरे घर के सामने इकट्ठा हो जाता है। सफाई नही होती। नाली के पानी को निकालने के लिए अगर अलग से नाली बना दी जाए तो सड़के ताल तलैया नहीं बनेगी। कार्यक्रम में पार्षदों ने नगरपालिका की पहली बैठक में इन समस्याओं के निराकरण के लिए प्रस्ताव लाने का आश्वासन दिया। जबकि नपा के स्वच्छता अमले ने सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने का भरोसा जताया।

खबरें और भी हैं...