• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Betul
  • , Succumbed To Infection And Injury. The Child Born 12 Hours Ago Was Thrown In The Bushes.

कुत्ते के मुंह से छुड़ाए गए शिशु की मौत:संक्रमण बढ़ने और चोट से तोड़ा दम, 12 घंटे पहले जन्में बच्चे को झाड़ियों में फेंका गया था

बैतूल7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कल बैतूल में जिस नवजात शिशु को कुत्ता लेकर गांव में घूम रहा था। उस नवजात की आज जिला अस्पताल के एनआईसीयू में इलाज के दौरान मौत हो गई है। संक्रमण बढ़ने और समय से पहले जन्म होना, शरीर में चोटों शिशु की मौत की वजह बना। फिलहाल उसे फेंकने वाले की तलाश पूरी नहीं हो सकी है।

जिला अस्पताल के शिशु गहन चिकित्सा इकाई में भर्ती नवजात ने आज दम तोड़ दिया। उसे गंभीर हालत में भर्ती कराया गया था। एनआईसीयू के प्रभारी चिकित्सक डॉक्टर आयुष के मुताबिक बालक की स्थिति शुरू से है गंभीर बनी हुई थी। समय से पहले जन्म के कारण वह बेहद कमजोर था। संभवतः उसका जन्म साढ़े छ से सात माह के दौरान ही हो गया था। जिससे वह सरवाइव नहीं कर पाया।

उसके पैर में कुत्ते के खा लिए जाने की वजह से एक उंगली की हड्डी बाहर निकल आई थी।वही झाड़ियों में फेंकने की वजह से उसे जगह जगह चोट के निशान बन गए थे। चोट और कुत्ते के काटने से उसके शरीर में संक्रमण तेजी से फैल गया था। जो उसकी मौत की वजह बन गया।

उधर आठनेर पुलिस ने इस शिशु के मामले में धारा 317 के तहत प्रकरण दर्ज कर उस महिला और फेंकने वाले की तलाश शुरू कर दी है। जिसने बालक को लावारिस छोड़ दिया था।

बता दें कि आठनेर थाना क्षेत्र के तहत ग्राम सातनेर गांव में सोमवार दिल दहला देने वाली घटना सामने आई थी। ग्राम के बीच स्थित एक नदी की झाड़ियों में अज्ञात नवजात शिशु पड़ा मिला था। जिसे एक कुत्ता अपने मुंह में दबाकर पूरे गांव में घूम रहा था। लोगों की नजर पड़ते ही इसे कुत्ते से छुड़ाकर रेस्क्यू किया गया था।

ग्रामीणों ने फौरन 108 एंबुलेंस को सूचना देकर बुलाया जिसकी मदद से उसे सीएचसी आठनेर में उपचार हेतु भर्ती कराया गया था।जहां उसकी हालत नाजुक बनी रहने के चलते सोमवार की रात में शिशु को जिला अस्पताल के एसएनसीयू में भर्ती कराया गया था।

खबरें और भी हैं...