बैतूल में 'मेरी आवाज ही पहचान' कार्यक्रम आयोजित:स्वर मधुरा मुंबई ने लता के गीतों पर दी संगीतमय प्रस्तुति

बैतूल16 दिन पहले

बैतूल के कांति शिवा टॉकीज में सामाजिक संस्थ संतुलन औक स्वर मधुरा ने शनिवार शाम 'मेरी आवाज ही पहचान' कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें मंबई से आई स्वर मधुरा ने स्वर कोकिला लता मंगेश्कर के संगीतमय सफर को यादगार बनाने के लिए संगीतमय प्रस्तुति दी। कार्यक्रम 'मेरी आवाज ही पहचान है' में मुम्बई की प्रसिद्ध गायिका मनीषा निश्चल ने शानदार गीतों की प्रस्तुति दी। जिससे श्रोता मंत्रमुग्ध हो गए। कार्यक्रम के दौरान संगीत में योगदान देने पर कई संगीतकारों को सम्मानित किया गया।

सत्यं-शिवम् सुंदर गीत से की शुरूआत

मनीषा निश्चल ने गीतों की शुरूआत सत्यं शिवम् सुंदरम् से की। इसके बाद उन्होंने लता मंगेश्कर के कई प्रसिद्ध गीतों की प्रस्तुति दी। साथ ही रफी और लता के गीतों में उनका साथ राजेश दुरूगकर ने दिया। गीतों के कार्यक्रम का संचालन डॉ. सल्फकर ने किया।

यह थे कार्यक्रम में अतिथि

कार्यक्रम में विशेष रूप से शामिल हुए सांसद दुर्गादास उइके, बैतूल विधायक निलय डागा, आमला विधायक डॉ. योगेश पंंडाग्रे, पूर्व सांसद हेमंत खण्डेलवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष राजा पंवार, नगर पालिका अध्यक्ष पार्वती बाई बारस्कर, जिला पंचायत सदस्य शैलेंद्र कुंंभारे का स्वागत आयोजन समिति के सदस्यों द्वारा किया गया।

संगीत में योगदान देने पर इनका किया सम्मान

इस मौके पर अतिथियों ने संगीत के क्षेत्र में विशेष योगदान देने वाली प्रो. डॉ. केके चौबे, जितेंद्र राठौर, नामदेव अतुलकर, संगीता वोहरा, अखलेश जैन, दिनेश खांडेकर, रमेश पंवार, पुष्कर देशमुख जैसी विभूतियों का सम्मान किया गया।

संस्था का प्रस्तुत किया प्रतिवेदन

इस मौके पर संतुलन समिति के उपाध्यक्ष और कार्यक्रम के संयोजक सजल गर्ग ने संस्था का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया जिसमें बताया कि संस्था के द्वारा आगामी 5 नवम्बर 2022 को नि:शुल्क कैंसर जांच एवं उपचार शिविर का आयोजन प्रतिवर्षानुसार किया जाएगा।

संगीत ग्रुप को भेंट किए स्मृति चिंह

संस्था की ओर से मुंबई से आए संगीत ग्रुप के सभी वादकों एवं गायिका मनीष निश्चल, गायक राजेश दुरूगकर का स्मृति चिन्ह देकर सम्मान किया गया।

खबरें और भी हैं...