राहत की खबर:100 बिस्तरों का कोविड केयर सेंटर शुरू, राज्यमंत्री बाेले- जनसेवा में समर्पित हों सभी

भिंड6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भिंड शहर के व्यापार मंडल धर्मशाला में कोविड-19 केयर सेंटर का शुभारंभ करते अतिथि - Dainik Bhaskar
भिंड शहर के व्यापार मंडल धर्मशाला में कोविड-19 केयर सेंटर का शुभारंभ करते अतिथि
  • व्यापार मंडल धर्मशाला में माधवराव सिंधिया कोविड केयर सेंटर का उद्घाटन

शहर की व्यापार मंडल धर्मशाला में माधवराव सिंधिया कोविड केयर सेंटर का शुभारंभ करते हुए प्रदेश सरकार में राज्यमंत्री एवं जिले के कोविड प्रभारी मंत्री ओपीएस भदौरिया ने कहा कि वर्तमान की विषम परिस्थितियों में ज्योतिरादित्य सिंधिया के मार्ग के हर जगह कोविड केयर सेंटर बनाए जा रहे हैं। इसको भिंड में डॉ. रमेश दुबे के प्रयास से मूर्त रूप दिया गया है। आज कोरोना की दूसरी लहर जो पूर्व से काफी अधिक भीषण हाल में उभरकर सामने आई है। ऐसे में हम सभी को राजनीति से ऊपर उठकर जनसेवा में समर्पित हो जाना चाहिए।

प्रभारी मंत्री भदौरिया ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने सदैव से ही जनता की सेवा के लिए कभी भी अपने कदम पीछे नहीं किये और ये कोविड केयर सेंटर इस बात को साबित भी करता है। भाजपा जिलाध्यक्ष नाथू सिंह गुर्जर ने कहा कि आज देश को हमारी आवश्यकता है,हम लोगों को यूं मरते तड़पते हुए नहीं देख सकते। हम भाजपा के ऐसे वो सैनिक हैं जो कभी हार नहीं मानेंगे। गुर्जर ने जिले के समस्त भाजपा कार्यकर्ताओं से कहा कि सभी कार्यकर्ता अपने अपने स्तर पर लोगों की मदद के लिए आगे आएं। कोविड केयर सेंटर संयोजक डॉ रमेश दुबे ने बताया कि कोविड केयर सेंटर में 100 बिस्तर रहेंगे। सभी चिकित्सा सुविधाएं होंगी जो कोरोना मरीजों के लिए आवश्यक हैं। इसमें स्वास्थ्य विभाग डाॅक्टर व नर्सिंग स्टॉफ को तैनात किया जाएगा।

कार्यक्रम में भाजपा पूर्व जिलाध्यक्ष अवधेश सिंह कुशवाह, राजेन्द्र शर्मा राजे, डॉ सुशील गुप्ता, प्रेमनारायण शर्मा, जगदीश प्रसाद दीक्षित, उपेंद्र शर्मा, सुनील अग्रवाल, अनिल कटारे, प्रदीप भदौरिया टीपू, अमित जैन, अभिभाषक आनंद बरुआ, रवींद्र सिंह नरवरिया, संतोष शर्मा, डॉ तरुण शर्मा, विकास शर्मा, शिवप्रताप सिंह राजावत, आशीष समाधिया, प्रिंस दुबे, मनीष राजपूत, रामदास सोनी, शेरू पचौरी, मनोज अनंत, चक्रेश जैन, भूरे गुबरेले, रवि वाजपेयी उपस्थित रहे।

कोरोना पीड़ितों के परिजन के लिए भोजन का कर रहे प्रबंध
डॉ दुबे ने कहा कि कोरोना की इस दूसरी लहर में कई परिवारों के सभी सदस्य संक्रमित हो रहे हैं। इनमें कुछ अस्पताल में भर्ती हैँ तो कुछ होम आइसोलेशन में हैं। ऐसे परिवारों में उनके बच्चों एवं बुजुर्गों को भोजन की बड़ी समस्या खड़ी हो रही है। ऐसे परिवारों की सूचना मिलने पर हम मरीजों और उनके परिजनों को भोजन पहुंचाने की व्यवस्था कराएंगे। डॉ. दुबे ने बताया कि इस बड़े मिशन को पूरा करने के लिए सोशल मीडिया पर स्वास्थ्य सेवा मिशन नाम से ग्रुप भी बनाया गया है ताकि समन्वय स्थापित हो सके।

खबरें और भी हैं...