• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • Corona Vaccination: Second Dose Of 2 Lakh People Is Pending, Even After Calling, They Are Not Reaching To Get It Done.

कोरोना से बचाव:कोरोना वैक्सीनेशन: 2 लाख लोगों का दूसरा डोज‎ पेंडिंग, बुलाने के बाद भी लगवाने नहीं पहुंच रहे‎

भिंडएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टीकाकरण केंद्र में कोरोना का पहला टीका लगवाता युवक।‎ - Dainik Bhaskar
टीकाकरण केंद्र में कोरोना का पहला टीका लगवाता युवक।‎

कोरोना वैक्सीन को लेकर प्रशासन‎ की मशक्कत कम होने का नाम‎ नहीं ले रही है। पहला डोज‎ लगवाने के बाद अब लोग दूसरा‎ डोज समय से लगवाने के लिए‎ आगे नहीं आ रहे हैं जिले में दो‎ लाख लोगों का दूसरा डोज ड्यू‎ चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग के‎​​​​​बुलावे पर भी वैक्सीनेशन सेंटर पर‎ नहीं पहुंच रहे हैं। बल्कि काम में‎ व्यस्त होने का बहाना बनाकर उसे‎ टाल रहे हैं। वहीं सेकंड डोज की‎ पेंडेंसी का यह आंकड़ा हर रोज‎ बढ़ रहा है।‎

बता दें कि भिंड जिले की‎ आबादी 19 लाख के करीब है। वहीं‎ मतदाता सूची के अनुसार जिले में‎ 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों की‎ संख्या 12 लाख 67 हजार के करीब‎ है। इनमें प्रशासन 10 लाख 35‎ हजार लोगों को वैक्सीन का पहला‎ डोज लगा चुका है। जो कि लक्षित‎ आबादी का 82 फीसदी हिस्सा है।‎ हालांकि प्रशासन का मानना है कि‎ शेष जो लोग रह गए हैं, वे रोजगार‎ के सिलसिले में जिले से बाहर‎ निवास करते हैं।

ऐसे में जिले के‎ अंदर निवास करने वाली 99 फीसदी‎ आबादी को वैक्सीन का पहला डोज‎ लग चुका है। लेकिन पहला डोज‎ सफलतापूर्वक लगवा चुके लोग‎ दूसरे डोज के लिए खुद आगे नहीं‎आ रहे हैं।बल्कि उन्हें बुलाना पड़‎ रहा है। बावजूद इसके भी वे सेकंड‎ डोज लगवाने के लिए नहीं आ रहे‎ हैं।‎

फैक्ट फाइल
10,35,010 लोगों को लगा‎ है पहला डोज।‎

3,60,478 लोगों को लग‎ चुका है दूसरा डोज।‎

3,38,844 लोग 45 से 60‎ वर्ष के हैं, जिन्हें वैक्सीन लग‎ चुकी है।‎

2,32,561 लोग 60 से‎ अधिक उम्र हैं, जिन्हें वैक्सीन‎ लग चुकी है।‎

8,24,083 लोग 18 से 44‎ वर्ष के हैं, जिन्हें वैक्सीन लग‎ चुकी है।‎

नोट आंकड़े को-विन पोर्टल के‎ अनुसार हैं।‎

बहाना... खेती बाड़ी के काम में चल रहे व्यस्त‎
स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिन लोगों को दूसरा डोज लगना‎ है, उन्हें फोन कर बुलाया जा रहा है। बावजूद लोग नहीं आ‎ रहे हैं। बल्कि काम में व्यस्त होना बताकर बाद में आने की‎कह रहे हैं। हालांकि इसके पीछे एक मुख्य कारण यह भी‎ सामने आया है कि जिले में निवासरत ज्यादातर लोग‎ खेतीबाड़ी पर आश्रित हैं। वहीं इस समय रबी सीजन की‎बोवनी का समय भी चल रहा है। ऐसे 20 नवंबर तक लोग‎ इसमें व्यस्त रहेंगे । हालांकि इसके बाद सेकेंड डोज लगवाने‎ लोगों की संख्या में इजाफा होगा।‎

मुश्किल... दिवाली की छुट्टी में भी बढ़ी पेंडेंसी‎

जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ एसके व्यास के अनुसार 7‎ नवंबर, रविवार को टीकाकरण के लिए अभियान चलाया‎ जाएगा। दीपावली के त्यौहार की छुटि्टयों की वजह से भी‎ पेंडेंसी बढ़ी है।जिन लोगों को दूसरा डोज लगाया जाना है,‎ उन्हें कॉल सेंटर से कॉल कर बुलाया भी जा रहा है। लेकिन‎ कुछ लोग आने की बात कहने के बाद भी सेंटर पर वैक्सीन‎ लगवाने नहीं पहुंच रहे हैं।

लोगों को समझाया जा रहा है कि‎ वैक्सीन के दोनों डोज लगने के बाद ही वह सुरक्षित हैं।‎ इसलिए इसमें लापरवाही नहीं बरतें।‎

‎​​​​​​​टीका... 94 फीसदी को लगाई गई कोविशील्ड‎​​​​​​​
कोरोना से बचाव के लिए देश में भले ही तीन वैक्सीन का‎ उपयोग किया जा रहा हो। लेकिन जिले में 94 फीसदी लोगों को‎ ​​​​​​​कोवि-शील्ड ही लगाई गई है। जबकि मात्र 6 फीसदी लोगों को‎ को-वैक्सीन लगाई गई है। कोविन पोर्टल के अनुसार जिले में‎ अब तक वैक्सीन के 13 लाख 95 हजार 488 डोज लगाए गए‎ हैं, जिसमें से 13 लाख 5 हजार 525 डोज कोवि-शील्ड और‎ 89 हजार 963 डोज कोवैक्सीन के लगाए गए हैं। वहीं लोग भी‎ ​​​​​​​कोविशील्ड लगवाने के लिए ही कह रहे हैं।‎

लाेगाें काे जागरूक‎ कर रहे‎

वैक्सीन के दोनों डोज समय से लगवाने के लिए लोगों को जागरुक किया जा रहा है।जिले में करीब दो लाख लोगों का दूसरा डोज ड्यू चल रहा है रविवार से टीकाकरण के सेशन शुरू होंगे, जिन लोगों का डोज ड्यू है, उन्हें कॉल सेंटर से कॉल कर बुलाया भी जा रहा है।‎​​​​​​​- डॉ अजीत मिश्रा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, भिंड‎

खबरें और भी हैं...