पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अवैध शराब की तस्करी:कर्फ्यू में राशन मिलना मुश्किल लेकिन शराब आसानी से मिल रही

गोहद/मेहगांव12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गोहद: भिंड रोड पर शराब दुकान के पीछे चोरी छुपे शराब खरीदते लोग । - Dainik Bhaskar
गोहद: भिंड रोड पर शराब दुकान के पीछे चोरी छुपे शराब खरीदते लोग ।
  • बंद शराब की दुकान पर ग्राहक शटर बजाकर बता देता है अपनी डिमांड, शटर के नीचे से हो जाता है लेनदेन
  • अंचल में चोरी छिपे चल रहा अवैध धंधा

गोहद और मेहगांव में कोरोना कर्फ्यू के दौरान जहां राशन मिलना तक मुश्किल हो रहा है वहां शराब का कारोबार करने वाले लोग चोरी छिपे शराब का व्यापार भी कर रहे हैं। कोरोना कर्फ्यू के चलते प्रशासन ने जहां शासकीय शराब दुकानों को बंद करा रखा है। वहीं दुकान संचालक इन दिनों चोरी-छुपे शराब बेच रहे हैं। खास बात यह है कि दुकानदार अबकारी विभाग द्वारा तय रेट से अधिक दामों पर शराब का क्वार्टर और बोतल बेच रहे हैं। पुलिस कार्रवाई भी नहीं कर रही।

तय दाम से अधिक में बेच रहे शराब

गोहद नगर में भिंड रोड, नया बस स्टैंड, गोहद रोड पर संचालित अंग्रेजी और देशी शराब दुकान पर जहां चोरी-छुपे शराब बेची जा रही है। वहीं दुकानदार अबकारी विभाग द्वारा तय रेट से अधिक दामों पर शराब बेच रहे हैं। इन दिनों दुकानदार100 रुपए का अंग्रेजी शराब का क्वार्टर 180 रुपए और बोतल 1500 रुपए में बेच रहे हैं। वहीं गोहद क्षेत्र के खरूआ, चितौरा और झांकरी गांव में तो प्रतिबंध के बाद भी शराब दुकानें नियमित रूप से खुल रही हैं।

इन जगहों पर चोरी छिपे बेची जा रही है शराब
मेहगांव में मौ रोड पर मौजूद शासकीय देशी शराब दुकान बंद है, लेकिन जब कोई व्यक्ति दुकान पर शराब लेने के लिए जाता है तो उसको शटर बजाना पड़ता है, शटर बजने के बाद संबंधित व्यक्ति को शटर के नीचे पहले रुपए डालने पड़ते हैं। उसके बाद दुकानदार शटर के नीचे से ही क्वार्टर दे देता है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें