पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • Even After Giving Thumb To The Poor For Ration, They Did Not Distribute Food Grains, They Themselves Belied The Distributors

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भिंड जिले में खाद्यान्न वितरण में पंद्रह लाख का गबन:गरीबों से हर महीने राशन को लेकर अंगूठा लगवाए फिर भी नहीं बांटा खाद्यान्न, खुद ही डकार गए वितरक

भिंड5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गूगल से फाइल इमेज। - Dainik Bhaskar
गूगल से फाइल इमेज।
  • लहार, मेहगांव में तीन शासकीय उचित मूल्य की दुकानों पर एफआईआर दर्ज

भिंड जिले के लहार और मेहगांव में शासकीय उचित मूल्य की दुकान पर गरीबों के राशन बांटे जाने में लाखों की गड़बड़ी का खुलासा हुआ। इन दोनों ब्लॉक में तीन शासकीय उचित मूल्य की दुकानों पर करीब पंद्रह लाख का सरकारी राशन को खुर्दबुर्द कर दिया गया। यह राशन को बांटे जाने के लिए शासन की ओर से भेजा गया। उचित मूल्य की दुकान के वितरक, गरीबों के हस्ताक्षर, अंगूठा लेते रहे। इसके बाद उन्हें अगले महीने राशन दिए जाने का आश्वासन देते रहे। इस तरह वे हर महीने लाखों का राशन डकार रहे थे। फूड सेफ्टी विभाग ने इन दुकान के संचालकों का यह फर्जीवाड़ा पकड़ लिया। ऐसे दुकान संचालकों पर कार्रवाई करते हुए गबन की धाराओं में एफआईआर दर्ज करा दी है।

लहार अनुविभाग में पदस्थ फूड सप्लाई ऑफिसर अजय अस्थाना के मुताबिक लहार सिकरी जागीर में स्थित शासकीय उचित मूल्य की दुकान सहकारी संस्था लालपुरा में पिछले एक साल से खाद्यान्न वितरण की जांच की गई तो बड़ी गड़बड़ी मिली। यहां हर महीने बड़ी सफाई से खाद्यान्न बांटे जाने में लोगों के हस्ताक्षर लिए जाते रहे। अंगूठा लगवाते रहे। ऐसे कई हितग्राही है जहां वितरकों ने खाद्यान्न खत्म होने का झांसा देकर अगले महीने दिए जाने की पर्ची थमाई फिर उन्हें दिया नही गया।

साढ़े चार लाख से अधिक का राशन किया पार

जांच रिपोर्ट के आधार पर फूड सेल्स ऑफिसर अस्थाना ने लालपुरा निवासी रामबाबू और साहब सिंह पर गबन का केस दर्ज कराया। यह गबन में इन आरोपियों द्वारा 194 क्विटंल 42 kg गेहूं, 0.7 क्विटंल शक्कर, 7 क्विटंल 66 किलो नमक, 14 क्विवंट मोटा अनाज बाजरा के वितरण के गड़बड़ी की है। इस तरह से 4 लाख 53 हजार से अधिक की गड़बड़ी पकड़ी।

जिले में सबसे ज्यादा बदनाम थी यह दो दुकानें

मेहगांव अनुविभाग के फूड सेल्स ऑफिसर सुशील मुदगल ने भास्कर को बताया कि वार्ड क्रमांक 13 हाथ बाजार स्थित शासकीय उचित मूल्य की दुकान और बनीपुरा स्थित शासकीय उचित मूल्य की दुकान जिले में सबसे ज्यादा गड़बड़ी कर रही थी। यह दोनों संस्थाएं नियमित राशन का वितरण नहीं कर रही थी। ऑनलाइन भी इन का रिकॉर्ड खराब है। वार्ड क्रमांक 13 में स्थित शासकीय उचित मूल्य की दुकान के वितरक जितेंद्र सिंह भदौरिया ने मार्च महीने का राशन 34 फीसदी ही बांटा। जांच के दौरान यह बात सामने आई है कि यहां तीन बोरी ज्वार, तीन बोरी नमक, 106 किलो शक्कर, 1164 किलो गेहूं, 269 लीटर केरोसिन का गबन किया है जिसकी कीमत 3 लाख 5 हजार 455 है। इसी तरह बनीपुरा में राशन का वितरण मार्च महीने में नहीं किया गया। यहां खाद्यान्न वितरक धर्मेन्द्र सिंह भदौरिया के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया। इस संस्था पर आरोपी द्वारा 26258 किग्रा गेहूं, 6728 किग्रा नमक, 98 किग्रा शक्कर, 979 लीटर केरोसिन का गबन कर 7 लाख 99 हजार 551 का राशन के राशन में गड़बड़ी की।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

और पढ़ें