• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • FIR On The 7th Day Of Looting Of Manure, SP Suspended The Station In charge, Then SDOP Took Action On 4

भिंड में नेता बचा रहे थे दबंग को:खाद लूटने के 7वें दिन FIR, SP ने थाना प्रभारी किया सस्पेंड, तब SDOP ने 4 पर की कार्रवाई

भिंडएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

मध्यप्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया के विधानसभा क्षेत्र में खाद लूट की वारदात हुई। यह खाद लूटने की वारदात सहकारिता मंत्री के गृह गांव ज्ञान पुरा और सराया पुरा के दबंगों ने की थी। इस मामले में भिंड पुलिस ने सातवें दिन 4 लेगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की है।

उल्लेखनीय है कि भिंड जिले में खाद लूट की पहली घटना अटेर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम सराया में 9-10 अक्टूबर की रात को हुई थी। यह घटना के बाद सहकारी गोदाम प्रभारी द्वारा फूप थाना प्रभारी अनीता गुर्जर को सूचना दी। सूचना के काफी देर बाद मौके पर पुलिस पहुंची। यहां से पुलिस द्वारा पड़ताल शुरू की, तभी प्रदेश की राजनीति में दखल रखने वाले नेता के छुट भैय्या नेता ने हस्ताक्षेप किया। पुलिस, छुट-भैय्या नेता के दबाव में आ गई। इधर, स्थानीय नेता ने सहकारिता विभाग के अफसरों पर दबाव बनाया। सहकारिता विभाग के अधिकारियों ने भी हाथ पीछे खींच लिए। इसके बाद खाद लुटने वालों के खेती के कागजों पर परमिट देकर चढ़वाया गया। इस पूरे मामले में भिंड की कानून व्यवस्था का माखौल उठाया गया। जब दैनिक भास्कर इस मुद्दे को गंभीरता से लेकर आया तब जिला प्रशासन और पुलिस विभाग की नींद उड़ी। एसपी मनोज कुमार सिंह ने इस मामले में विभागीय जांच कराई और खाद लुटेरों पर कार्रवाई न होने के मामले में फूप थाना प्रभारी अनीता गुर्जर को निलंबित किया गया। इसके बाद एसडीओपी तोमर ने इस पूरे मामले में जांच कर रामकुमार सिंह पुत्र महाराज सिंह, आकाश सिंह पुत्र बलवान सिंह, सीताराम पुत्र मुन्नी सिंह सभी निवासीगण ज्ञान पुरा और बबलू पुत्र अंगद सिंह निवासी सराया का पुरा के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया। जबकि इस मामले में 10 से अधिक दबंग थे। इस मामले में अभी कई और आरोपी बचे हुए है जिन की पड़ताल पुलिस नहीं कर पाई है।

मेहगांव में भी हो चुकी एफआइआर

इधर, भिंड जिले के मेहगांव में भी एफआइआर दर्ज की जा चुकी है। दो रोज पूर्व मेहगांव के विपणन गोदाम से 30 बोरी खाद लूट की घटना हुई है। इस पर मेहगांव थाना पुलिस ने अज्ञात आरोपियों पर कार्रवाई करते हुए एफआईआर दर्ज की है।