• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • Fire In The Head Of A Staff Nurse Resident Of Mandla, Death On The Spot; Chaos In The Hospital

एकतरफा प्यार में वार्ड बॉय ने की हत्या!:जिला अस्पताल में स्टाफ नर्स के सिर में मारी गोली, आक्रोशित नर्सों ने दी हड़ताल की चेतावनी

भिंड10 महीने पहले

भिंड जिला अस्पताल में उस वक्त हड़कंप मच गया, जब एक युवक ने अस्पताल की स्टाफ नर्स नेहा चंदेल के सिर में गोली मार दी। घटना में नर्स की मौके पर ही मौत हो गई। नेहा चंदेल मंडला की रहने वाली थी। आरोपी रितेश शाक्य अस्पताल में ही वार्ड बॉय है। घटना के बाद आरोपी ने सरेंडर कर दिया है। पुलिस ने आरोपी के पास से वारदात में इस्तेमाल कट्‌टा भी बरामद कर लिया है। मामला प्रेम प्रसंग का बताया जा रहा है। आशंका है कि एकतरफा प्यार में वार्ड बॉय ने इस वारदात को अंजाम दिया है। फिलहाल पुलिस हर एंगल से जांच में जुट गई है।

जानकारी के मुताबिक नेहा चंदेल (24) ने 2018 में बतौर स्टोर इंचार्ज जॉइन किया था। वह हाउसिंग कॉलोनी में किराए से रह रही थी। गुरुवार शाम भी वह रोजाना की तरह स्टोर में थी। इसी दौरान एक युवक आया और उसे गोली मार दी। उसके दायीं कनपटी पर गोली मारी गई है। शाम करीब 6:15 बजे अस्पताल का ही कर्मचारी स्टोर में गया, तब घटना का खुलासा हुआ। उसने बाकी स्टाफ को जानकारी दी। घटना के बाद यहां अफरा-तफरी मच गई। पुलिस को भी सूचना दी गई।

स्टाफ नर्स के सिर में गोली मारी गई है।
स्टाफ नर्स के सिर में गोली मारी गई है।

सीसीटीवी फुटेज जांच रही पुलिस

जिस स्टोर में हत्या की वारदात हुई वो जिला अस्पताल में अंदर की ओर है। वहां कम लोग ही आते-जाते हैं। सामान भी रखा रहता है। यही कारण है कि किसी को वारदात का पता नहीं चल पाया। मौके पर सीसीटीवी भी लगा है। इसकी भी जांच की जा रही है।

प्रेम-प्रसंग ही मान रही पुलिस

पुलिस का कहना है कि फिलहाल प्रेम-प्रसंग को लेकर जांच की जा रही है। आरोपी से भी पूछताछ की जा रही है। पुलिस का मानना है कि एकतरफा प्रेम के चलते वारदात को अंजाम दिया गया है। वारदात के करीब एक घंटे बाद अस्पताल का वार्ड बॉय रितेश शाक्य ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। रितेश नर्स से 5 साल बड़ा है।

वारदात के बाद अस्पताल में पुलिस अफसर पहुंच गए।
वारदात के बाद अस्पताल में पुलिस अफसर पहुंच गए।

फरवरी में होने वाली थी शादी

पुलिस के मुताबिक नेहा की इसी महीने फरवरी में शादी होने वाली थी। किन्हीं कारणों से स्थगित हो गई। पुलिस ने घटनास्थल से मोबाइल भी जब्त किया है।

घटना के बाद नर्सों में आक्रोश
वारदात के बाद अस्पताल में तनावपूर्ण माहौल हो गया। सभी नर्सें आक्रोशित होकर बाहर आ गईं। उनका कहना था कि इस तरह असुरक्षित माहौल में वो काम नहीं करेंगी। नर्सों का कहना है कि प्रदेश स्तर पर बात करके घटना के विरोध में शुक्रवार को हड़ताल पर भी जा सकती हैं।

खबरें और भी हैं...