पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • For Five Hours, The News Of His Own Friend's Death Was Kept Hidden, The Police Got The Information, The Divers Refused To Descend Into The River, The Rescue Team From Morena Discovered The Body

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चंबल नदी में डूबने से युवक की मौत:पांच घ्ंटे तक अपने ही दोस्त के मौत की खबर को छुपाए रखा, पुलिस को लगी सूचना तो गोताखोरों ने नदी में उतरने से किया इनकार, मुरैना से आई रेस्क्यू टीम ने खोजा शव

भिंडएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चंबल नदी का दृश्य। - Dainik Bhaskar
चंबल नदी का दृश्य।
  • नहाते समय डूब गए थे तीन युवक
  • नदी के आस पास मौजूद लोगों ने दो को बचाया।

अटेर के सुरपुरा में होली का त्यौहार मनाने के बाद युवकों की टोली ने पहले क्रिकेट खेली फिर चंबल नदी में नहाने के लिए चले गए। यह युवक नदी में नहाने के लिए गहरे पानी में जा पहुंचे। तभी तीन युवक डूबने लगे, नदी के आस पास मौजूद लोगों की मदद से दो युवकों को डूबने से बचा लिया। लेकिन तीसरे युवक डूब गया। यह खबर को नदी में नहाने गए युवकों ने छुपाए रखा। शाम पांच बजे जब परिजनों ने खोज खबर शुरू की तब उसके डूबने की बात सामने आई।

अटेर थाना प्रभारी अतुल सिंह भदौरिया के मुताबिक सुरपुरा बिजली घर के सामने निवासी नीटू (18) पुत्र कैलाश जाटव गांव के ही 14-15 लड़कों के साथ सोमवार को होली के दिन अटेर किला के पास मैदान में क्रिकेट खेलने गए थे। दोपहर के समय मैच खत्म करने के बाद 6-7 लड़के दोपहर करीब 1 बजे चंबल नदी में नहाने के लिए चले गए। तभी गहराई में जाने की वजह से तीन लोग नदी में डूबने लगे। मौके पर मौजूद अन्य लोगों ने नदी में डूबते दिख रहे दो लड़कों को तो बचा लिया। लेकिन नीटू नजर नहीं आया। बाद में जब नीटू नहीं मिला तो लोगों को पता चला कि वह भी डूब गया। साथ के युवकों ने नीटू के घर वालों को यह सूचना नहीं दी। शाम को जब नीटू घर नहीं लौटा तो परिजनों ने तलाश शुरू की तब कही नीटू के नदी में डूबने की बात सामने आई। यह सूचना मिलने पर पुलिस ने शाम के समय गोताखोरों के माध्यम से नदी में उसकी तलाश कराई। शाम होने और नदी में मगरमच्छ व घड़ियाल होने की वजह से गोताखोर भी नदी से बाहर निकल आए।

चंबल में मगरमच्छ व घड़ियालों की वजह से गोताखोर भी डरे

चंबल नदी में बड़ी संख्या घडियाल और मगरमच्छ होने की वजह से ज्यादा समय गोताखोर नदी की गहराई में नहीं जा रहे थे। इस वजह से युवक की तलाश पूरी नहीं हो पा रही थी। अटेर पुलिस ने मंगलवार की सुबह मुरैना से आई एनडीआरएफ की टीम ने नदी में रेस्क्यू किया। करीब 4 घंटे बाद दोपहर शाम तीन बजे उसका शव टीम को मिल गया। मृतक के शव को जलीय जीवों ने नोंच लिया है। पुलिस ने मृतक के शव का पीएम कराकर परिजन के सुपुर्द कर दिया है। साथ ही मर्ग कायम कर प्रकरण विवेचना में लिया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

और पढ़ें