• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • Health Staff Swung Into Action As Soon As A Dengue Patient Was Found, The Team Reached The Patient's Locality, Got The Larvae Destroyed In The Coolers

भिंड में डेंगू की दस्तक:डेंगू का मरीज मिलते ही हरकत में आया स्वास्थ्य अमला, मोहल्ले में पहुंचकर कूलरों और जमा पानी से लार्वा कराया नष्ट

भिंड3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भिंड के द्वारिका नगर में डेंगू का मरीज मिलने के बाद कूलरों में लार्वा नष्ट करता स्वास्थ्य कर्मी। - Dainik Bhaskar
भिंड के द्वारिका नगर में डेंगू का मरीज मिलने के बाद कूलरों में लार्वा नष्ट करता स्वास्थ्य कर्मी।

भिंड जिले में कोरोना के बाद अब डेंगू ने दस्तक दे दी है। शुक्रवार को एक मरीज डेंगू पॉजिटिव पाया गया है। यहां मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम सर्तक हो गई। सर्वे दल को भेजकर मरीज के मोहल्ले में मलेरिया, चिकनगुनिया और डेंगू की जांच कराई जा रही है। और घरों में पहुंचकर लार्वा नष्ट कराया जा रहा है।

भिंड के द्वारिका नगर में रहने वाली 51 वर्षीय राजकुमारी पति सत्यराम बीते दिनों से फीवर से पीड़ित थी। मरीज को स्वास्थ्य उपचार के लिए ग्वालियर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां मरीज के उपचार के दौरान डेंगू होने की पुष्टि की गई। जिसकी सूचना जिला अस्पताल प्रबंधन को दी गई। स्वास्थ्य विभाग टीम ने शनिवार को द्वारिका नगर में सर्वे टीम भेजी। यहां सर्वे का काम शुरू कराया गया। इस दौरान घरों के अंदर कूलरों में भरे पानी को साफ कराया गया। वहीं डेंगू का लार्वा मिलने पर उसे नष्ट कराए जाने के लिए दवा डाली गई। साथ ही मरीज के घर के आस-पास के फीवर के मरीजों को स्वास्थ्य उपचार हेतु सलाह दी गई।

बारिश के जमा पानी में लार्वा नष्ट करने के लिए दवा डाली गई।
बारिश के जमा पानी में लार्वा नष्ट करने के लिए दवा डाली गई।

6 डेंगू और 8 मलेरिया के मरीज मिले

जिला मलेरिया अधिकारी का कहना है कि जिले में इन दिनों डेंगू से बचाव को लेकर पूरी तरह सर्तकता अपनाई जा रही है। जिलेभर में अभियान चलाया जा रहा है। इस साल डेंगू के अब तक 6 मरीज मिल चुके है। वहीं मलेरिया बीमारी से पीड़ित मरीजों की संख्या आठ है। चिकनगुनिया का एक भी मरीज अब तक सामने नहीं आया।

फॉगिंग मशीन का अता पता नहीं

भिंड जिले में डेंगू मच्छर पनप रहा है। मच्छर को नष्ट करने को लेकर स्वास्थ्य विभाग, नगर पालिका और नगर पंचायत की टीमों को सतर्क किया गया है। कर्मचारी मच्छरों को नष्ट करने के लिए वार्डों में नहीं पहुंच रहे है। इन कर्मचारियों द्वारा दवा का छिड़काव नहीं किया जा रहा और ना ही फॉगिंग मशीन निकाली जा रही है। वहीं भिंड नगर पालिका सीएमओ सुरेंद्र शर्मा का कहना है कि हर रोज शाम को फॉगिंग मशीन शहर में घूमती है।

लोगों के घरों में पहुंचकर सर्वे टीम ने लार्वा कराया नष्ट।
लोगों के घरों में पहुंचकर सर्वे टीम ने लार्वा कराया नष्ट।
खबरें और भी हैं...