• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • Kovid Patients Will Not Get Breathless, Police Vehicle Will Be Deployed To Bring Oxygen, GPS System And Wireless Will Be Provided In The Vehicle

भिंड पुलिस की अच्छी पहल:कोविड मरीजों की सांसों पर न आए संकट, पुलिस वाहन ऑक्सीजन लाने के लिए रहेगा तैनात, वाहन में जीपीएस सिस्टम व वायलेस की होगी सुविधा

भिंड6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।
  • वीवीआईपी ड्यूटी के लिए प्रशिक्षत ड्राइवर वाहन पर रहेगा तैनात

भिंड के जिला अस्पताल में कोविड वार्ड में भर्ती मरीजों को लेकर पुलिस प्रशासन ने अच्छी पहल की है। पुलिस प्रशासन ने कोविड पॉजिटिव मरीजों को ऑक्सीजन सप्लाई व्यवस्था में सहयोग के लिए एक पुलिस वाहन मुहैया कराएगा। यह वाहन जीपीएस सिस्टम व वायरलेस सेट युक्त होगा। जरूरत पड़ने पर इस वाहन की ऑनलाइन लोकेशन देखी जा सकेगी। वाहन से तैनात कर्मचारी से पुलिस वायरलेस सेट के माध्यम से सीधे संपर्क कर सकेगी। यह वाहन शुक्रवार से चौबीस घंटे सातों दिन जिला अस्पताल में तैनात रहेगा। इस वाहन पर वीवीआईपी ड्यूटी के लिए प्रशिक्षत ड्राइवर तैनात रहेगा।

बीती रात जिला अस्पताल में कोविड मरीजों के सामने ऑक्सीजन का संकट खड़ा हो गया था। मरीजों के लिए ऑक्सीजन की बढ़ती मांग को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने प्राण वायु की सुरक्षा भी बढ़ा दी है। पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने मालनपुर से भिंड अस्पताल तक ऑक्सीजन जाने के लिए वायरलेस और जीपीएस लेस पुलिस के वाहन जहां स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध कराए हैं।

दरअसल जिला अस्पताल में ऑक्सीजन की पूर्ति के लिए सिलेंडर मालनपुर की विशाल एयर और सूर्या ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट से रिफिल होकर आते हैं। लेकिन कई बार यह सिलेंडर तय समय में मालनपुर से निकलने के बाद जिला अस्पताल तक नहीं पहुंच पाते हैं। ऐसे में उक्त सिलेंडरों की लोकेशन पता करने में भी जिला प्रशासन को काफी कठिनाई होती है। इसी समस्या को दृष्टिगत रखते हुए एसपी मनोज कुमार सिंह पुलिस लाइन से वायरलेस और जीपीएस लेस पुलिस के वाहन ऑक्सीजन सप्लाई के लिए स्वास्थ्य विभाग को उलपब्ध कराएं हैं। साथ ही इन वाहनों को चलाने के लिए वीवीआईपी ड्यूटी करने वाले ड्रायवरों को तैनात किया गया है। यह सभी वाहन और ड्रायवर स्वास्थ्य विभाग में 24 घंटे, सातों दिन उपलब्ध रहेंगे।

मरीजों के लिए ऑक्सीजन की कमी न आने दी जाएगी

पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह का कहना है कि हमारी कोशिश है कि जिला अस्पताल में किसी भी मरीज की मौत ऑक्सीजन के अभाव में नहीं होना चाहिए। कई बार साधारण ड्राइवर तय समय में मालनपुर से ऑक्सीजन लेकर जिला अस्पताल तक नहीं आ पाते हैं। साथ ही उक्त वाहन की लोकेशन भी पता नहीं चलती है। ऐसे में पुलिस के वायरलेस और जीपीएस सपोट वाहन ऑक्सीजन के लिए स्वास्थ्य विभाग को दिए हैं। इन वाहनों को पुलिस के ट्रेंड ड्रायवर चलाएंगे, जो कि तय समय में आक्सीजन लाएंगे।

खबरें और भी हैं...