हीट से ट्रांसफार्मर नहीं ले पा रहे लोड:मौ में चल रही 50 से अधिक गन्ने के रस की दुकानें, अधिकांश पर बिजली चोरी

लहार8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मौ नगर के बस स्टैंड पर संचालित  गन्ना रस की मशीन। - Dainik Bhaskar
मौ नगर के बस स्टैंड पर संचालित गन्ना रस की मशीन।

बिजली कंपनी द्वारा इन दिनों जिलेभर में बकायादारों से बिजली बिल वसूली के लिए अभियान चला रही है। वहीं दूसरी और मौ नगर के बाजार में गन्ने का रस बेचने के कारोबार में लगे दुकानदार चोरी की बिजली का उपयोग कर अपना धंधा कर रहे हैं। खास बात यह है कि दुकानदारों के द्वारा की जा रही बिजली चोरी की जानकारी बिजली कंपनी अधिकारियों को होने के बाद भी वे बिजली चोरी पर अंकुश तक नहीं लगा पा रहे हैं।

गौरतलब है कि मौ नगर के सदर बाजार, मौ-मेहगांव रोड, बस स्टैंड सहित अन्य जगहों पर 50 से अधिक गन्ना रस की दुकानें संचालित हो रही हैं। लेकिन इन जगहों पर संचालित गन्ने का रस निकालने वाली मशीनें चोरी की बिजली से चलाई जा रहीं हैं।

भीषण गर्मी में बढ़ रही बिजली की खपत के कारण लहार नगर में लगे ट्रांसफार्मरों पर लोड बढ़ रहा है। इससे रोजाना कहीं न कहीं फॉल्ट की स्थिति निर्मित हो रही है। डीई हरीश मेहता का कहना है कि भीषण गर्मी शुरू होने से कूलर, पंखे व एसी चलने से बिजली की खपत में भी वृद्धि हुई है।

भीषण गर्मी के कारण ठंडे करना पड़ रहे हैं ट्रांसफार्मर
डीई हरीश मेहता बताते हैं कि भीषण गर्मी के साथ ओवर लोड बढ़ जाने से ट्रांसफार्मर जल्दी गर्म हो रहे हैं। इसलिए उनके अर्थ में पानी देना पड़ता है। कई बार तो ट्रांसफार्मर को हीट से बचाने के लिए बंद भी करना पड़ता है।

मनमर्जी बंद कर दी जाती है सप्लाई
मेहगांव क्षेत्र के बरासों फीडर बिजली कंपनी कर्मचारियों की मनमर्जी से चल रहा है। स्थिति यह है कि कर्मचारी जब चाहे तब बिजली की सप्लाई चालू करते और जब चाहे तब सप्लाई को बंद कर देते हैं। ऐसी स्थिति में बरासों, पतलोखरी , छाजूपुरा, सुरुरु सहित अन्य गांव के लोग परेशान हैं।

ग्रामीण बताते हैं कि शुक्रवार सुबह 11 बजे बिजली सप्लाई अचानक बंद कर दी गई, सप्लाई शनिवार दोपहर 3बजे तक शुरू नहीं हुई। ग्रामीण बताते हैं कि जबसे बरासों में फीडर बना है, तबसे कभी भी नियमित बिजली नहीं मिली है।

बिजली बिल में भी होगी बढ़ोतरी
लगातार चल रहे कूलर, पंखों व एसी के कारण उपभोक्ताओं की मीटर खपत भी बढ़ेगी। इस बढ़ी हुई खपत का असर सीधे उपभोक्ताओं के बिजली बिल पर पड़ेगा। बिजली कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि लोग जितनी अधिक बिजली इस्तेमाल करेंगे, उतना ही बिल उनके यहां अधिक आएगा।

उनके अनुसार इस माह जिस तरह खपत बढ़ी है उससे अगले माह उपभोक्ताओं को बिजली बिल भी अन्य माह की अपेक्षा अधिक आएगा। एक अनुमान के अनुसार करीब 30 से 40 फीसदी राशि का इजाफा हो सकता है।

बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी
बाजार में जो दुकानदार बिना बिजली कनेक्शन के गन्ने की मशीन चला रहे हैं। उनके खिलाफ बिजली कंपनी द्वारा कार्रवाई की जाएगी। साथ ही जुर्माना भी वसूला जाएगा। जल्द ही अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएगी। -रविंद्र गौर, सुपरवाइजर, बिजली कंपनी मौ

डायरेक्ट ट्रांसफार्मर से जोड़ रहे हैं तार
मौ निवासी संतोष सिंह, केशव यादव, प्रेमनारा यण सिंह बताते हैं कि बाजार में किसी भी गन्ना रस दुकानदार ने मशीन चलाने के लिए बिजली विभाग से कनेक्शन नहीं ले रखा है। दुकानदारों ने मशीन चलाने के लिए डायरेक्ट ट्रांसफार्मर और बिजली के खंभे से तार जोड़ रखें हैं।

वहीं बस स्टैंड इलाके में सबसे अधिक गन्ना रस की दुकानें संचालित हैं, वहां पर सभी दुकानदार ट्रांसफार्मर से डायरेक्ट कनेक्शन किए हुए हैं। जिसके कारण रोजाना ट्रांसफार्मर पर फॉल्ट हो रहे हैं। इस बात की जानकारी बिजली कंपनी अधिकारियों को होने के बाद भी वे बिजली चोरी पर अंकुश तक नहीं लगा पा रहे हैं। इसके अलावा नगर में अघोषित बिजली कटौती ने लोगों को परेशान कर रखा है। वर्तमान में नगर वासियों को 24 घंटे में से सिर्फ आठ से दस घंटे बिजली मिल पा रही है।

खबरें और भी हैं...