पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वसूली के लिए अभियान शुरू:अब संपत्ति व जलकर का बकाया वसूलने घर-घर जाएंगे एआरआई

भिंड2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भिंड कलेक्टर सभागार में बैठक लेते सहायक कलेक्टर केवी विवेक। - Dainik Bhaskar
भिंड कलेक्टर सभागार में बैठक लेते सहायक कलेक्टर केवी विवेक।
  • सहायक कलेक्टर ने दी कर्मचारियों को चेतावनी- काम नहीं तो वेतन नहीं
  • संपत्ति व जलकर के 13 करोड़ बकाया

नगरीय क्षेत्र के भवन मालिकों पर संपत्ति कर व जलकर की वसूली के लिए नगरीय निकाय द्वारा अभियान शुरू किया है। इसके तहत नपा में कार्यरत एआरआई सहित अन्य कर्मचारियों की वार्ड वार तैनाती की गई है। इनके द्वारा घर- घर दस्तक दी जाएगी। 10 जुलाई को आयोजित नेशनल लोक अदालत में बकायादारों को अधिभार से छूट भी मिल सकेगी। सहायक कलेक्टर केवी विवेक द्वारा तैनात किए गए कर्मचारियों को चेतावनी दी गई है कि बकायादों को नोटिस जारी करने और ऑनलाइन बिल अपडेट करें। इस कार्य में लापरवाही करने पर वेतन रोकने की कार्रवाई की जाएगी।

यहां शहर में भवन स्वामियों पर संपत्तिकर की 6 करोड़ और जलकर की 7 करोड़ रुपए से अधिक की राशि बकाया है। इसकी वसूली के लिए नगर पालिका द्वारा अभियान शुरू किया है। इस संदर्भ में आज सहायक कलेक्टर द्वारा संपत्तिकर एवं जलकर प्रकोष्ठ के कर्मचारियों की अलग- अलग मीटिंग की गई। वसूली के लिए वार्ड वार तैनात किए गए कर्मचारियों से भी चर्चा की गई। इनसे कहा गया है कि निश्चित समय सीमा में बकायादारों को नोटिस पहुंचाना सुनिश्चत करेे। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मीटिंग में लिपिक सुल्तान सिंह नरवरिया सहित तैनात किए एआरई उपस्थित थे।

एक एआरआई पर दो से चार वार्ड की जिम्मेदारी

शहर के 39 वार्डों में संपत्तिकर एवं जलकर वसूली के लिए 18 एआरआई सहित इतने ही अन्य कर्मचारियों को तैनात किया गया है। इन्हें 2 से 4 वार्ड की जिम्मेदारी दी गई है। इन सभी से कहा गया है कि वसूली करें। इस कार्य को न करने पर उन्हें वेतन का भुगतान नहीं किया जाएगा।

अधिभार पर मिलेगी छूट

संपत्ति कर 50 हजार रुपए बकाया है अधिभार में 100 प्रतिशत छूट दी जाएगी और 1 लाख रुपए तक बकाया होने पर 50 फीसदी की छूट रहेगी। ऐसे प्रकरण जिनमें कर व अधिभार 1 लाख रुपए से अधिक बकाया है तो 25 प्रतिशत छूट मिलेगी। इसी प्रकार कर वसूली को लेकर अन्य प्रावधान भी हैं।

खबरें और भी हैं...