• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • Open Market After 60 Hours, Crowds Of Customers Gathered For Shopping, Two Yards Did Not Comply, Administration Warning Ineffective

लॉकडाउन के बाद सोशल डिस्टेंसिंग खत्म:60 घंटे के बाद खुले बाजार, खरीदारी के लिए उमड़ी ग्राहकों की भीड़, दो गज की दूरी का नहीं हुआ पालन, प्रशासन की चेतावनी बेअसर

भिंड8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
स्कूल के बाहर लगी छात्रों की भीड़। - Dainik Bhaskar
स्कूल के बाहर लगी छात्रों की भीड़।
  • दुकानें खुलते ही बाजार का सूनापन हुआ खत्म लौटी रौनक।

60 घंटे का लॉकडाउन के बाद सोमवार की सुबह भिंड शहर का बाजार खुला। व्यापारी, सुबह अपनी दुकानों पर पहुंचे। शटरें उठाई। शटर खुलते ही दुकानों पर पर ग्राहकों की भीड़ जुटने लगी। बाजार में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन बिल्कुल खत्म हो गया। बाजार में ग्राहकों से लेकर व्यापारी कोरोना को लेकर बेफिक्र नजर आए।

जिले में लगातार कोरोना अपने पैर पसार रहा है। हर रोज नए लोग संक्रमित होकर अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं। जो लोग इस बीमारी से पीड़ित हैं। उन्हें सर्दी, खांसी, दस्त और सांस लेने की कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। इस खतरनाक वायरस से बचाव को लेकर कोविड नियमों का पालन करना जरूरी है। भिंड शहर में कोरोना वायरस भले ही तेजी से फैल रहा हो। कोरोना एक्टिव मरीजों की संख्या हर रोज बढ़ रही हो। प्रशासन भले ही सख्ती दिखा रहा हो लेकिन यहां के लोग कोविड-19 से बचाव को लेकर परहेज करते नहीं दिख रहे हैं।

लॉक डाउन के बाद फिर बाजार में सजी कपड़ा दुकानें।
लॉक डाउन के बाद फिर बाजार में सजी कपड़ा दुकानें।

चाय-नाश्ते की दुकान पर लगी भीड़

बाजार में छोटे से लेकर बड़ी चाय और नाश्ते की दुकान पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया गया। यहां बढ़ी तादाद में लोग आना शुरू हो गया है। चाय नाश्ते की दुकानों पर लोगों ने बिना कोरोना का भय और डर के लोग नजर आए। सुबह से ही भीड़ लगी रही। ना लोगों के चेहरे पर मास्क दिखे और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया।

बसों में दिखे यात्री, ऑटो- रिक्शा चालकों का धंधा चमका

जिले में दो दिन का लॉक डाउन खत्म होते ही सरकारी एवं गैर सरकारी दफ्तर खोले गए। लोग, अपने-अपने काम से निकले। दो दिन बाद शहर में यात्री बढ़ी तादाद में निकले। सोमवार की सुबह से ही बसों में यात्रियों की भीड़ दिखी। दो दिन से शहर के बस स्टैंड सूने थे। बसें खाली ही रवाना हो रही थी। इस तरह शहर के ऑटो चालकों ने राहत की सांस ली। ऑटो और ई-रिक्शा चालक सुबह से सवारियों के लिए घरों से निकले। वे दो दिन बाद सवारियों को ढोकर धंधा करते हुए नजर आए।

नदारद रही पुलिस

दो दिन तक डंडे का भय दिखाकर लॉकडाउन का पालन कराने वाली पुलिस सोमवार की सुबह से गायब रही। लॉकडाउन खुलते ही पुलिस जवानों ने ड्यूटी से राहत की सांस ली। शहर के चौराहों, प्रमुख बाजारों पर पुलिस सुबह के समय नजर नहीं आई। हालांकि जिन स्थानों पर पुलिस बल तैनात रहा। वहां मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए रोक-टोक करते नजर आए।

खबरें और भी हैं...