पुर्नमतदान के खर्च की वसूली:पुलिस छावनी बना पचोखरा गांव दोपहर 3 बजे तक 67% मतदान

भिंडएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के पहले चरण में शामिल पचोखरा गांव में सोमवार को भारी पुलिस फोर्स के बीच पुर्नमतदान हुआ। सुबह सात बजे से प्रारंभ हुई मतदान की प्रक्रिया तय कार्यक्रम के अनुसार दोपहर तीन बजे तक चली। इस दौरान 67 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। बता दें कि 25 जून को पंचायत चुनाव के पहले चरण का मतदान रौन और लहार जनपद क्षेत्र में हुआ था।

रौन जनपद के पचोखरा गांव में सरपंच पद के लिए चार उम्मीदवार हैं। चारों में कांटे की टक्कर बताई जा रही है। 25 जून, शनिवार को जब मतदान समाप्ति की ओर था तभी कुछ युवक पचोखरा के मतदान केंद्र क्रमांक 52 में घुस आए। उन्होंने पीठासीन अधिकारी से मतपत्र छीनकर जबरन उन पर सील लगाते हुए मतपेटी में डाल दिए।

इसके उपरांत 27 जून, सोमवार को पुर्नमतदान कराने का निर्णय लिया गया। मतदान प्रारंभ होने से पूर्व ही पचोखरा का मतदान केंद्र क्रमांक 52 पुलिस छावनी के रुप में तब्दील हो गया। लहार एसडीओपी अवनीश बंसल के नेतृत्व में तीन टीआई, छह एसआई समेत करीब 70 जवान मौजूद रहे।

पुरुषों से ज्यादा महिलाओं ने किया मतदान
सोमवार को पचोखरा में हुए पुर्नमतदान में पुरुषों के मुकाबले महिलाओं ने ज्यादा रुचि दिखाई। दोपहर तीन बजे तक कुल 67 फीसदी मतदान हुआ। इसमें 61 फीसदी पुरुष और 74 फीसदी महिलाओं ने मतदान किया। इसके पीछे एक वजह यह भी बताई जा रही है कि मतदान केंद्र पर पुलिस फोर्स काफी अधिक होने के डर से भी कई पुरुष मतदान केंद्र के आसपास तक नहीं भटके। उन्हें डर था कि कहीं 25 जून का गुस्सा पुलिस आज उन पर न निकाल दे।

उपद्रव करने वालों के नाम चिह्नित, उनसे होगी वसूली
पचोखरा के मतदान केंद्र क्रमांक 52 पर उपद्रव करने वाले उपद्रवियों के विरुद्ध प्रशासन ने सख्त रवैया अपनाया है। पुलिस ने उपद्रवियों के नाम चिंहित कर लिए हैं। वहीं अब उनके विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी। उनके 50-50 हजार रुपए के बांड की राशि को जहां जब्त किया गया है।

साथ ही उनके विरुद्ध धारा 122 के तहत कार्रवाई कर उन्हें भेज भेजने की कार्रवाई की जा रही है। इसके अलावा पुर्न मतदान कराने में हुए व्यय हुई करीब पांच लाख रुपए की राशि भी अब प्रशासन उपद्रवियों से वसूल करेगा।

खबरें और भी हैं...