पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • Police Did Not Come Forward To Help The Injured After The Bus Was Coming From Jaipur And Took The Passengers Near Gormi And Beat Them Up, Wrote An FIR Six Hours After The Incident.

घर लौट रहे प्रवासियों को पीटा, VIDEO:जयपुर से आ रहे मजदूरों को भिंड में लठैतों ने बस से उतार कर पीटा, घायलों की मदद के लिए पुलिस भी नहीं आई; 6 घंटे बाद FIR लिखी

भिंड2 महीने पहले
बस से उतारकर सवारियों से मारपीट करते हुए।

कोरोना के बढ़ते संक्रमण और लॉकडाउन के डर से घर लौट रहे प्रवासियों से भिंड में जमकर मारपीट की गई। उन्हें बस से उतार कर लठैतों ने पीटा। कई महिला, पुरुष व बच्चों के गंभीर चोटें आई हैं। मारपीट की VIDEO भी सामने आया है, जिसमें लठैत बेरहमी से प्रवासियों को पीट रहे हैं। यही नहीं, पुलिस यात्रियों की मदद के लिए आगे नहीं आई। भिंड SP के फोन के बाद गोरमी पुलिस ने पीड़ितों से शिकायती आवेदन लिया।

जयपुर में पानी पूरी का काम करने वाले कंचन सिंह निवासी कुसमरा जिला जालौन अपने परिवार व अन्य साथी रुकमणी, रामलाल, अर्चना, भूरे सहित 11 लोगों के साथ वापस गांव लौट रहे थे। वे जयपुर से बालाजी कंपनी की बस में बैठे थे और लहार आ रहे थे। तभी पोरसा-गोरमी हाईवे के पास बालाजी कंपनी की दूसरी बस दिल्ली से आई। इस बस से कुछ युवक उतरे और वे लहार आने वाली बस में सवार हुए।

इस बस में इन युवकों को कंडक्टर महिलाओं की सीट पर बैठाने लगा। तभी बस की सवारियों से कंडक्टर व बस में बैठने वाले युवकों की बहस हो गई। इसके बाद गोरमी थाना क्षेत्र महुआ चौकी के पास स्थित साईं पेट्रोल पंप के पास बस चालक ने बस को रोक दिया। कंडक्टर ने गांव के कुछ लठैतों को बुलाया। इसके बाद सवारियों को बस से उतारकर उन्हें पीटा गया।

बस से घसीटकर नीचे उतारा, महिलाओं के कपड़े फाड़े दिए

लठैत बस में बैठे महिला- पुरुष सवारियों को घसीटते हुए नीचे लाए। लाठी-डंडों से उन्हें जमकर पीटा। कई महिलाओं-पुरुषों को चोटें आई हैं। कई घायल हो गए। महिला सवारियों के कपड़े भी फाड़ दिए गए। कुछ महिलाओं के मंगलसूत्र, पायलें भी गायब मिली हैं।

मारपीट में घायल महिला।
मारपीट में घायल महिला।

पुलिस ने नहीं सुनी शिकायत, 6 घंटे बाद हुई FIR

इस पूरी घटना में सबसे ज्यादा लापरवाही गोरमी थाना पुलिस की देखने को मिली। घटना सुबह साढ़े छह बजे की है। घटनास्थल से ही पीड़ितों ने पुलिस को सूचना दी। चार घंटे तक पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की। इसके बाद SP मनोज कुमार सिंह ने पूरे मामले में हस्तक्षेप किया। इसके दस बजे पीड़ित सवारियों का शिकायती आवेदन लिया गया। वहीं, दोपहर 12.30 के करीब FIR दर्ज हुई।

15 लठैत बुलाए गांव से, उनके साथ मिलकर की मारपीट

बस में सवार महिला रुक्मिणी देवी का कहना है कि सीट पर नहीं बैठने दिया ताे मारपीट की। मुझे चोट आई है। इस बात की शिकायत थाने में की। वहीं, कंचन सिंह ने बताया कि गांव से करीब पंद्रह लठैतों को बुलाकर पिटाई करवाई। हम लोगों ने उनको सीट पर नहीं बैठने दिया। इसी बात को लेकर पीटा।

इस घटना की एफआईआर दर्ज कर ली गई

गोरमी थाना प्रभारी मनोज राजपूत का कहना है कि महुआ चौकी के पास हाईवे पर बस में सीट को लेकर विवाद हो गया। इसमें किसी ने लोकल लाेगों को बुला लिया। इस घटना में चार सवारियों के चोट आई है। पांच लोगों को आरोपी बनाया गया है। पीड़ितों की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली गई।

इसी बस से सवारियों को उतारकर उनसे मारपीट की गई।
इसी बस से सवारियों को उतारकर उनसे मारपीट की गई।
खबरें और भी हैं...