सड़क निर्माण को लेकर लोग परेशान:साढ़े चार साल में भी नहीं बन सकी जग्गा हनुमान मंदिर की सड़क

मौएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नगरीय सीमा क्षेत्र में गोहद मुख्य मार्ग से जग्गा हनुमान मंदिर तक डब्ल्यूबीएम रोड का निर्माण कार्य साढ़े चार साल की अवधि में भी पूरा नहीं हो सका है। इस कारण श्रद्धालुजन में आक्रोश व्याप्त है। इनका कहना है कि नगर पालिका प्रशासन की अनदेखी के चलते अब तक रोड निर्माण कार्य पूरा नहीं हुआ है। इसलिए उनके द्वारा इस बार नगरीय निकाय चुनाव में मतदान नहीं करने का निश्चय किया गया है।

यहां बता दें 41.42 लाख रुपए की इस डब्ल्यूबीएम रोड के निर्माण के लिए वर्ष 2017 में 22 दिसंबर को शिलान्यास राज्य सरकार में तत्कालीन मंत्री लाल सिंह आर्य द्वारा किया गया था। करीब डेढ़ किलोमीटर लंबी डब्ल्यूबीएम रोड निर्माण के लिए तय अवधि कब की गुजर चुकी है लेकिन इसका कार्य अब तक पूरा नहीं हो सका है। इस कारण लोगों में तीव्र आक्रोश व्याप्त है।

लोगों द्वारा कहा गया है कि इस प्रकार की स्थिति निकाय के अमले की ठेकेदारों से सांठगांठ के चलते बनती है। इसका खामियाजा आवागमन करने वालों को भुगतना पड़ रहा है।

यह हैं रोड के हालात
डब्ल्यूबीएम रोड के नाम पर काले रंग की गिट्‌टी डलवा दी गई है इसके बाद इस पर रोलर तक नहीं चलवाया गया है। इस कारण वाहनों के गुजरते समय गिट्‌टी उचट उचटकर लोगों को घायल कर रही है। निर्माण कार्य क्यों पूरा नहीं कराया गया इसका जवाब जिम्मेदार अभी नहीं दे पा रहे हैं। क्योंकि निकाय में अभी जनता द्वारा चुने हुए प्रतिनिधि तो हैं नहीं। अधिकारी भी नए आए हैं इसलिए वह भी इस बारे में कुछ नहीं कह पा रहे हैं।

जानकारी करेंगे रोड क्यों नहीं बन सकी
इतनी लंबी अवधि तक डब्ल्यूबीएम रोड का निर्माण कार्य क्यों पूरा नहीं हुआ है यह फाइल देखकर जानकारी की जाएगी और जल्दी कार्य पूरा कराने के लिए आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। -ए गनी, सीएमओ, माै

खबरें और भी हैं...