• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • Seeing The Enthusiasm Among The Disabled Children, The MLA Said Give Suggestions To The Child Care Team, Will Fulfill The Needs

प्रतियोगिता:नि:शक्त बच्चों में उत्साह देख विधायक ने कहा- चाइल्ड केयर टीम सुझाव दे, जरूरतें पूरी करेंगे

भिंड8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विकलांग दिवस के अवसर पर नि:शक्त बालक को प्रमाण पत्र देते भिंड विधायक। - Dainik Bhaskar
विकलांग दिवस के अवसर पर नि:शक्त बालक को प्रमाण पत्र देते भिंड विधायक।

दिव्यांग बच्चे हुनरमंद हैं। कोई दौड़ रहा है तो कोई गोला फैंक रहा है। यह सामान्य बच्चों कम नजर नहीं आ रहे और अब यह विभिन्न क्षेत्रों में आगे बढ़ रहे हैं। इनकी जरूरतें चाइल्डकेयर टीम के सुझाव अनुसार पूरी की जाएंगी। यह बात विश्व विकलांग दिवस के उपलक्ष्य में नि:शक्त बच्चों के लिए आयोजित ब्लाक स्तरीय खेलकूद एवं सामर्थ्य प्रदर्शन कार्यक्रम में स्थानीय विधायक संजीव सिंह कुशवाह (संजू) ने कही। वे जनपद शिक्षा केंद्र के तत्वावधान में शासकीय एक्सीलेंस मिडिल स्कूल (काटनजीन) क्रमांक एक के परिसर में आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे।

विधायक ने आगे कहा कि दिव्यांग बच्चे वास्तव में ऊर्जावान होते हैं और इनकी ऊर्जा को बढ़ाने के लिए सरकार विभिन्न तरह के आयोजन और सुविधाएं उपलब्ध करा रही है। उन्होंने कहा कि दिव्यांग बच्चों की प्रतिभा सामान्य से कहीं अधिक होती है बस उस प्रतिभा को पहचानने की देर है। कार्यक्रम में एक्सीलेंस हायर सेकंडरी स्कूल के प्राचार्य पीएस चौहान ने कहा कि नि:शक्तता कोई अभिषाप नहीं है।

अब ऐसे अत्याधुनिक उपकरण हैं जिनसे नि:शक्तता का पता नहीं चलता है। इसलिए नि:शक्त बच्चे नित नए पायदान की ओर अग्रसर हो रहे हैं। बीआरसीसी सतेंद्र सिंह कुशवाह ने कहा कि नि:शक्त बच्चे भी सामान्य बच्चों की तरह आगे बढ़ सकें इसके लिए शासन द्वारा विभिन्न योजनाएं संचालित की जा रही हैं। चाइल्ड लाइन के डायरेक्टर शिवभान सिंह राठौर ने कहा कि नि:शक्त बच्चों को आत्मीय व्यवहार की जरूरत है अगर उन्हें यह मिलता है तो वह सामान्य बच्चों की तरह आगे बढ़ते हैं।

अब तो जिले से ही वॉटर स्पोर्टस में कई बच्चे राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मैडल लेकर आ रहे हैं। इस अवसर पर बीईओ एमके तायल, पूर्व बीईओ उमेश सिंह भदौरिया, प्रधानाध्यापक नरेश सिंह भदौरिया, अरविंद सिंह तोमर, विजेंद्र सिंह तोमर, एमआरसी कल्पना मिश्रा, चाइल्ड लाइन टीम में राघव सिंह, सतेंद्र राजावत, देवकी, प्रेम सागर, उमेश शर्मा सहित स्टाॅफ सदस्य व दिव्यांग छात्र- छात्राएं व उनके अभिभावक उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन धीरज गुर्जर ने किया।

3 दिसंबर होगी जिला स्तरीय प्रतियोगिता
दिव्यांग बच्चों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने और उनमें छिपी प्रतिभा को निखारने के क्रम में ब्लाक स्तरीय प्रतियोगिता के बाद अब 3 दिसंबर को जिला स्तरीय खेलकूद एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। होगी। यह आयोजन जिला शिक्षा केंद्र द्वारा किया जाएगा। इसमें सफल हुए प्रतिभागियों को भी पुरस्कृत किया जाएगा। जिला स्तरीय प्रतियोगिता के लिए तैयारियां की जा रही हैं।

दौड़ में करिश्मा व राजेश रहे पहले स्थान पर
दिव्यांग बच्चों के लिए आयोजित प्रतियोगिताओं में 50 मीटर दौड़ में प्रथम करिश्मा, द्वितीय काजल व तृतीय नीतू रही। जबकि 100 मीटर दौड़ में राजेश राठौर पहले, अमन दूसरे और संदीप तीसरे स्थान पर रहे। मेंहदी व रंगोली प्रतियोगिता में संजना कोरकू ने पहला स्थान पाया। इसी प्रकार गोला फेंक. पेंटिग, डिस्क फेंक, नृत्य, गायन प्रतियोगिता एवं सांस्कृ़तिक कार्यक्रमों में बच्चों द्वारा भागीदारी की गई। विभिन्न प्रतियोगिताओं में सफल हुए बच्चों को विधायक द्वारा पुरस्कृत किया गया।

खबरें और भी हैं...