भिंड में रेत का अवैध कारोबार जोरों पर:सिंध नदी से पनडुब्बी खींच रही थी रेत, अफसरों ने 6 पनडुब्बी कराई नष्ट

भिंड2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पनडुब्बी को किया आग के हवाले। - Dainik Bhaskar
पनडुब्बी को किया आग के हवाले।

भिंड जिले में रेत का अवैध कारोबार जोरों पर चल रहा है। यहां खनन माफिया सिंध नदी का सीना चीरते हुए पनडुब्बी से नदी की धार से रेत खींच रहे है। जिला प्रशासन, पुलिस और खनिज विभाग के अफसरों ने अमायन थाना क्षेत्र सांदूरी और लहार थाना क्षेत्र की मटियावली रेत खदान पर अवैध उत्खनन को रोकने पहुंचे। इन दोनों रेत खदानों पर छह से अधिक पनडुब्बी मिली। जिन्हें अफसरों ने आग लगाकर नष्ट कराया।

उल्लेखनीय है कि भिंड जिले की सिंध नदी से रेत का अवैध कारोबार जोरों पर चल रहा है। यहां से ट्रैक्टर, डंपर और ट्रकों को हर रोज बड़ी तादाद में निकाला जा रहा है। अवैध रेत माफियाओं की पकड़ खनिज विभाग से लेकर पुलिस थानों में बनी हुई है। ऐसे में बिना रोक टोक ओवर लोड वाहनों को निकाला जा रहा है। भिंड कलेक्टर डॉ सतीश कुमार एस द्वारा रेत के अवैध उत्खनन के खिलाफ अभियान चलाने के निर्देश दिए। परंतु कहां टीम पहुंचेगी। इसकी खबर पहले से ही रेत माफियाओं के पास होती है। मंगलवार को रेत के अवैध करोबारियों पर शिकंजा कसने के लिए एडीएम प्रवीण फ़ुलपगारें, एएसपी कमलेश खरपुसे, एसडीएम मेहगांव वरुण अवस्थी, एसडीएम लहार आरए प्रजापति पहुंचे। पहले यह टीम अमायन थाना क्षेत्र पहुंची। इसके बाद लहार थाना क्षेत्र के मटियावली रेत खदान पर पहुंची। इन दोनों ही जगह पनडुब्बियों काे पकड़ा। प्रशासनिक अफसरों ने मौके पर छह पनडुब्बी नष्ट कराई।

पनडुब्बी तोड़ी।
पनडुब्बी तोड़ी।

2 जेसीबी पकड़ी

रेत के अवैध उत्खनन करते हुए पुलिस, माइनिक व प्रशासनिक अफसरों ने दो जेसीबी मशीन भी पकड़ी। यह जेसीबी मशीन के माध्यम से रेत माफिया पनडुब्बी से निकलने वाली रेत को वाहनों में भरते थे। प्रशासनिक अफसरों ने दोनों जेसीबी मशीनों को राजसात किए जाने की कार्रवाई की।

रेत माफियाओं की थाने में गहरी पैठ

प्रशासनिक अफसरों की टीम आने और रेत खदान पर कार्रवाई की खबर अमायन थाना पुलिस द्वारा रेत माफियाओं को दिए जाने की बात सामने आ रही है। अमायन थाना लंबे समय से रेत माफियाओं के लिए सुरक्षित बना हुआ है। यहां रेत से भरे ओवर लोड ट्रक बड़ी तादाद में दिन-रात देखे जा सकते है। प्रशासनिक टीम आने से पहले ही रेत माफियाओं को खबर लगने की वजह से ट्रैक्टर-ट्रॉली, डंपर व ट्रकों को गांव में छिए गए है। इधर, लहार थाना में भी रेत माफियाओं की घुसपैठ है। लहार के महाराणा प्रताप चौराहे पर पुलिस जवानों द्वारा रेत के वाहनों से वसूली की शिकायत पर दो जवानों को लाइन अटैच किए जाने की कार्रवाई कुछ दिनों पहले हुई थी।

खबरें और भी हैं...