पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निजी अस्पतालों की तस्दीक:डॉक्टर बोले- मरीजों का ब्यौरा कैसे दें, सीएमएचओ ने कहा- इसमें गलत क्या

भिंडएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छात्रावास में संक्रमित मरीजों से मुलाकात करने के बाद लौटते सहकारिता मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया व प्रभारी मंत्री ओपीएस भदौरिया। - Dainik Bhaskar
छात्रावास में संक्रमित मरीजों से मुलाकात करने के बाद लौटते सहकारिता मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया व प्रभारी मंत्री ओपीएस भदौरिया।
  • निजी चिकित्सकों ने लोक सेवा प्रबंधन मंत्री से की परेशानी पर चर्चा

शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में निजी चिकित्सा व्यवसायियों के प्रतिनिधि मंडल ने हड़ताल के दूसरे रोज लोक सेवा प्रबंधन मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया से भेंट कर कहा कि पुलिस द्वारा निजी क्लीनिक पर सीसीटीवी कैमरा लगवाने और मरीजों के रिकॉर्ड रजिस्टर को थाने से तस्दीक कराने के लिए कहा जा रहा है जो व्यावहारिक रूप से संभव नहीं है। मंत्री डॉ. भदौरिया ने आश्वासन दिया कि इस बारे में कलेक्टर से बात की जाएगी। इस मुद्दे पर सीएमएचओ डॉ. अजीत मिश्रा का कहना है कि कोविड- 19 संक्रमण काल में जिले में लापरवाही के चलते यह क्षेत्र हॉटस्पॉट न बन जाए इसलिए इस प्रकार का प्रावधान किया गया इसमें गलत क्या है।

यहां बता दें पिछले दिनों निजी चिकित्सकों का कोविड- 19 टेस्ट कराने का फरमान निकाला गया इसमें कई चिकित्सा व्यवसायी पॉजीटिव पाए गए। इनमें से किसी को कोविड केयर सेंटर तो किसी को होम आइसोलेट कराया गया। इससे यह बात पुख्ता हो गई कि निजी चिकित्सा व्यवसाय करने वालों के यहां से कोविड- 19 का संक्रमण फैल सकता है। इसके बाद प्रशासन द्वारा पुलिस के माध्यम इन सभी को जांच कराने के लिए कहा गया। इसके बाद ही सीसीटीवी कैमरे लगवाने और रिकार्ड रखे जाने की बात कही गई है। इसके बाद निजी चिकित्सकों द्वारा हड़ताल करने की घोषणा कर दी गई।

निजी चिकित्सकों के पांच सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल में शामिल वासुदेव नरवरिया, उमाशंकर मिश्रा, आर डी परिहार, मधुरेश त्रिपाठी, नदीम खान आदि ने मंत्री से कहा कि आज भी हम लोगों ने आलमपुर, मौ, अमायन, उमरी, मेहगांव, लहार, गोहद, भिंड, अटेर सहित अन्य स्थानों पर क्लीनिक बंद रखे हैं। तब मंत्री ने कहा कि हम आप लोगों का सम्मान करते हैं आपकी समस्याओं पर कलेक्टर साहब से बात करेंगे।

सीएमएचओ का कहना है कि जिले को किसी भी स्थिति में कोविड- 19 का हॉटस्पॉट नहीं बनने देना हैं। समूची कवायद उसी के लिए की जा रही है इस कार्य पुलिस, राजस्व, महिला बाल विकास, शिक्षा विभाग का अमला जुटा हुआ है। जहां तक निजी चिकित्सकों का प्रश्न है तो यह चिकित्सा विभाग के स्वास्थ्य कार्यकर्ता की भांति प्राथमिक फिर आज भर कर सकते हैं ।

शिक्षकों को काेरोना योद्धा घोषित किए जाने की मांग
सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डाॅ. अरविंद सिंह भदौरिया को आजाद अध्यापक शिक्षक संघ की अटेर ब्लॉक इकाई द्वारा एक ज्ञापन साैंपा गया। जिसमें शिक्षक संवर्ग को कोरोना योद्धा का दर्जा दिलाए जाने की मांग की गई है। इस में पिछले रोज कर्तव्य का निर्वहन करते हुए पहले बीमार और फिर दिवंगत हुए शिक्षक देवेंद्र सिंह बघेल का उल्लेख करते हुए कोरोना योद्धा घोषित कराए जाने के लिए मुख्यमंत्री को पत्र लिखने का आह्वान किया गया।

बताया गया इसी प्रकार कई शिक्षक कोरोना संक्रमण से दिवंगत हो गए हैं। इन सभी को कोरोना योद्धा घोषित किया जाना चाहिए। इस मौके पर जिलाध्यक्ष आनंद सिंह भदौरिया, उपाध्यक्ष गणेश बाबू शर्मा, अटेर ब्लाक अध्यक्ष जितेंद्र भदौरिया, दिग्विजय सिंह लोधी आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...