पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • The Entire Market Remained Closed To Break The Chain Of Infection, All The Shops Remained Open In The Meat Market

मंदिरों के रास्ते से मीट मंडी हटे अभियान:संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए पूरा बाजार रहा बंद, मीट मंडी में खुली रहीं सभी दुकानें

भिंड13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शहर में कोरोना कर्फ्यू के दौरान सड़क पर चलती मीट मंडी। - Dainik Bhaskar
शहर में कोरोना कर्फ्यू के दौरान सड़क पर चलती मीट मंडी।
  • सामाजिक संगठन प्रतिनिधि बोले- यह तो गलत है, ऐसी हठधर्मी नहीं की जाए बर्दाश्त

कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए प्रशासन द्वारा रविवार बंद का एलान किया गया है। इसके तहत जहां एक ओर शहर भर के बाजारों में दुकानें बंद रहीं वहीं दूसरी ओर मीट मंडी में धड़ल्ले से कारोबार चला। यहां मंडी में अंदर ही नहीं बाहर भी मांस, मछली, मुर्गे, अंडे की दुकानें खुली रहीं। इनके अलावा आसपास के इलाके में पकाकर मीट बेचने वाले होटल भी धड़ल्ले से चलते रहे। इससे लगता है इन कारोबारियों को न तो महामारी फैलने और न ही प्रशासन की कार्रवाई काे लेकर किसी प्रकार का खौफ है। सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने कहा है कि यह तो सरासर मनमानी है, इस पर अंकुश के साथ मीट मंडी के लिए बस्ती से बाहर स्थान तय होना चाहिए।

यहां बता दें गौरी सरोवर किनारे चल रही मीट मंडी मंदिरों के रास्ते में होने की बजह से इसके हटाए जाने की मांग पिछले बीस साल से की जा रही है। जबकि प्रशासन द्वारा पिछले दिनों इसी स्थल पर मीट मंडी के लिए बड़ा परिसर बनवाने की योजना बनाई गई। इसके बाद से फिर एक बार मीट मंडी किसी अन्य उपयुक्त स्थान पर बनाए जाने की मांग जोर पकड़ने लगी है।

हालांकि इस मांग के मद्देनजर प्रशासन द्वारा शहर में स्थान देखा जा रहा है। लेकिन इसी बीच आज टोटल बंद के दौरान मीट मंडी खुली देखकर सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। इनका कहना है कि मीट मंडी कारोबारियों ने आज दुकानें खोलकर यह साबित कर दिया है कि वे किसी कानून और आदेश को नहीं मानते हैं।

मंदिर आने वाले हो जाते हैं विचलित:
^गौरी सरोवर किनारे मंदिरों की लंबी श्रंखला है। इससे मंदिर आने- जाने वाले श्रद्धालुओं को मीट मंडी होकर गुजरना पड़ रहा है। सड़क पर मांस मछली कटते और बिकते हुए देखकर मन विचलित हो जाता है। इसलिए मंडी यहां से अन्य कहीं बनाई जाना चाहिए।
शैलेंद्र सांकरी, सचिव, अभिभाषक
तत्काल धार्मिक क्षेत्र घोषित करें

^गौरी सरोवर और इसके आसपास का इलाका धार्मिक क्षेत्र घोषित होना चाहिए। जिससे मांस- मदिरा आदि की खरीद फरोख्त निश्चित सीमा में प्रतिबंधित हो सके। यहां से मंडी हटवाकर कड़ा प्रावधान करना होगा कि क्षेत्र में कोई भी मांस- मदिरा का कारोबार नहीं कर सके।
अमित जैन, नवजीवन संगठन
प्रशासन को फिर से ज्ञापन सौंपेंगे

^बाजार बंद के दौरान मीट मंडी में कारोबार होना गलत है। मंडी हटाने के लिए चल रही मुहिम में विभिन्न संगठनों ने ज्ञापन सौंपे हैं। ऐसा करने वालों के विरुद्ध प्रशासन और पुलिस द्वारा कार्रवाई की जाना चाहिए। इसके लिए प्रशासन को एक और ज्ञापन सौँपा जाएगा।
गगन शर्मा, सामाजिक कार्यकर्ता

खबरें और भी हैं...