• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • The Kayakalp Team Asked The Employee What Will You Do With The Expired Medicines; Health Worker Said Will Bury It In The Soil

निरीक्षण:कायाकल्प टीम ने कर्मचारी से पूछा- एक्सपायर्ड दवाओं का क्या करोगे; स्वास्थ्यकर्मी बोला- मिट्‌टी में दबा देंगे

भिंड16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कायाकल्प टीम में शामिल जबलपुर और सतना के डाक्टर्स ने किया जिला अस्पताल का निरीक्षण

कायाकल्प अवार्ड के लिए जबलपुर और सतना के डाॅक्टर्स की टीम ने गुरुवार को भिंड जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। इस दौरान जब टीम ट्राॅमा सेंटर में संचालित लैब में पहुंची तो उन्होंने लेब टेक्नीशियन आरके भटेले से पूछा सैंपल लेने के लिए मरीज को कहां बैठाते हो। इस पर भटेले ने जवाब दिया कि सर यह चेयर है। चेयर देखकर टीम में शामिल डॉ. आदर्श विश्वनोई बोले- यह तो बहुत कमजोर है। इस पर कोई मोटी महिला आकर बैठी तो यह टूट जाएगी। तभी भटेले ने कहा कि सर पीछे बेंच भी है। डॉ. विश्वनोई बोले- मजा नहीं आया। आप को यहां कलेक्शन चेयर रखना चाहिए।

दरअसल भिंड जिला अस्पताल कायाकल्प में दो बार प्रदेश में नंबर वन पर रह चुका है। लेकिन बीते साल भिंड जिला अस्पताल के नंबर वन का तमगा जबलपुर ने छीन लिया था। ऐसे में इस बार एक बार फिर से भिंड जिला अस्पताल ने नंबर वन पर पहुंचने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाया है। वहीं भिंड जिला अस्पताल की तैयारियों का जायजा लेने के लिए निरीक्षण अधिकारी के तौर पर जबलपुर से डॉ. आदर्श विश्वनोई, डॉ. संजय जैन और सतना जिला अस्पताल से डॉ. अरुण त्रिवेदी की टीम भिंड में आई।

पौंछा भी नहीं लगा पाया प्लास्टर चढ़ाने वाला
इस दौरान उन्होंने पैरामेडीकल स्टाफ के साथ साथ चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों से कई तरह के सवाल जवाब किए। साथ ही उनसे प्रेक्टिकल कराकर भी देखा। वहीं जहां भी उन्हें गलत नजर आया वहां स्टाफ को टोककर उसमें किस तरह से सुधार करना है यह भी बताया। इस दौरान सिविल सर्जन डॉ अनिल गोयल, आरएमओ आरएन राजौरिया सहित अन्य डॉक्टर और पैरामेडीकल स्टाफ मौजूद रहा।

खबरें और भी हैं...