पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • Where The Officers Should Rest, The Conduits Are Being Built There, The Rest House Of The Irrigation Department Became The Tabela

अफसरों के आराम की जगह पर गोबर:जहां अफसरों को विश्राम करना चाहिए, वहां बनाए जा रहे कंडे, सिंचाई विभाग का रेस्ट हाउस बना तबेला; कलेक्टर के कहने पर भी सुधार नहीं

भिंड23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आलमपुर का रेस्ट हाउस जहां बनाए जाते कंडे। - Dainik Bhaskar
आलमपुर का रेस्ट हाउस जहां बनाए जाते कंडे।

जिला मुख्यालय से करीब 90 KM दूर आलमपुर नगर में स्थित सिंचाई विभाग का रेस्ट हाउस पिछले कई सालों तबेला बना हुआ है। यहां स्थानीय लाेगों द्वारा सरकारी भवन पर कंडे बनाए जा रहे हैं। इस रेस्ट हाउस की व्यवस्था सुधारे जाने को लेकर पिछले दिनों कलेक्टर डॉ सतीश कुमार एस निरीक्षण किया गया। इसके बाद भी सुधार नहीं हो सका।

नहरों की सिंचाई संबंधी कार्य के दौरान अधिकारी और कर्मचारियों के विश्राम के लिए करीब 40 साल पहले नगर में रेस्ट हाउस बनाया गया था। पिछले कई सालों से यह रेस्ट हाउस का उपयोग न किए जाने से धीरे-धीरे अनदेखी की जा रही है। अब यह बिल्डिंग कंडम होने लगी है। बीते दिनों इस बिल्डिंग के आस पास कंडे बनाए जा रहे। पशु पालक अपने पशुओं को बांधने लगे है। यह भवन की लंबे समय से सफाई नहीं की गई। जगह-जगह कचरे का ढेर लगा हुआ है।

वैसे तो इस भवन में रहने-ठहरने और मनोरंजन के लिए कमरे अलग-अलग बने हुए हैं। परंतु देख रेख के अभाव में इन की हालत बदतर होती जा रही है। इस भवन की सुरक्षा के लिए गार्ड भी तैनात है। फिर भी यह भवन असुरक्षित है। हर रोज शाम के समय इस परिसर में नशेड़ियों का जमावड़ा होता है। वे शराब पार्टी करने के लिए यहां एकत्रित होते हैं।

कलेक्टर ने 16 जून को किया था निरीक्षण

बीते 16 जून को कलेक्टर डॉ सतीश कुमार एस द्वारा रेस्ट हाउस का निरीक्षण किया था। इसके बाद सिंचाई विभाग के अफसरों से रेस्ट हाउस की व्यवस्था सुधार को लेकर निर्देशित किया था। इसके बाद सुधार नहीं हो सका। कलेक्टर के जाते ही सिंचाई विभाग के अफसर निर्देशों को भूल गए।

सामान हुआ चोरी

पिछले दस सालों में यहां से सिंचाई विभाग का सामान चोरी हो गया है। बेड से लेकर किचन सहित अन्य सामान चोरी हो चुका है। वर्तमान में यहां रहने तक के लिए पलंग आदि की व्यवस्था नहीं है।

खबरें और भी हैं...