पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पीक से ज्यादा बेकाबू कोरोना:अप्रैल के 8 दिन में 145 नए पॉजिटिव, मास्क लगाने फिर भी गंभीर नहीं लोग

अशोकनगर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक दिन में सबसे ज्यादा 43 पॉजिटिव; सख्ती: 79 क्षेत्र कंटेनमेंट बनाए, 39 दुकानें भी सील कीं

पिछले साल जब कोरोना पीक पर था तब एक दिन में इतने मरीज नहीं मिले थे जितने अब मिल रहे हैं। गुरुवार को सबसे ज्यादा 43 मरीज निकलकर सामने आए हैं। ये मरीज 242 सैंपल की जांच में सामने आए हैं। इस तरह संक्रमण दर करीब 18 फीसदी तक पहुंच गई है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि जिले में कोरोना की रफ्तार भयावह होती जा रही है। लगातार बिगड़ रही स्थिति को कंट्रोल करने के लिए फिर से कंटेनमेंट जोन बनाए जाने लगे हैं। अब तक 79 कंटेनमेंट जोन तैयार किए जा चुके हैं। बिगड़ रही स्थिति को काबू में लाने के लिए 9 अप्रैल को शाम 6 से 12 अप्रैल सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन घोषित किया गया है। जिले में कोरोना के 143 एक्टिव मरीज मौजूद हैं। अप्रैल माह के 8 दिन में 145 पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं। अब तक 1 हजार 338 प्रकरण हो चुके हैं। ताजा आंकड़ों के अनुसार कोरोना की पहली लहर की तुलना में दूसरी लहर खतरनाक है। अप्रैल माह में कोरोना ने एकदम से रफ्तार पकड़ी है, जो सबसे ज्यादा खतरनाक होती जा रही है। अब तक कुल 1 हजार 178 मरीज ठीक हो चुके हैं। 75 हजार 231 लोगों की जांच में 73 हजार 213 लोग पॉजिटिव मिल चुके हैं। इन सबके बावजूद लोग कोरोना को लेकर गंभीर नहीं है और बिना मास्क के ही बाजार में घूम रहे हैं।

आज शाम 6 बजे से सोमवार सुबह तक टोटल लॉकडाउन
कोरोना की बिगड़ रही स्थिति को कंट्रोल में लाने के लिए नगरीय क्षेत्रों में 9 अप्रैल शाम 6 बजे से 12 अप्रैल सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन लगाए जाने के निर्देश जारी किए गए हैं। 30 अप्रैल तक नगरीय क्षेत्र में हर दिन रात 10 से सुबह 6 बजे तक रात्रिकालीन लॉकडाउन रहेगा। सभी शासकीय कार्यालयों में सप्ताह में 5 दिन सोमवार से शुक्रवार तक काम किए जाएंगे। शनिवार और रविवार को कार्यालय बंद रहेंगे। कार्यालयीन समय सुबह 10 से शाम 6 बजे तक रहेगा।

कंटेनमेंट जोन के दौरान डॉक्टर का विवाद
बढ़ रहे कोरोना के मरीजों को देखते हुए कंटेनमेंट जोन के लिए बेरीकेड्स लगाए जाने की प्रक्रिया शुरु कर दी है। शहरी क्षेत्र में कंटेनमेंट जोन बनाए जा रहे थे लेकिन इस काम में लगे डॉ. सूर्यप्रताप यादव पॉजिटिव मिले मरीज के घर सूची चस्पा कर रहे थे तो उसके परिजनों का उनसे विवाद हो गया। इस दौरान नायब तहसीलदार मस्तराम गुर्जर मौजूद थे। बाद में समझाइश के बाद मामला शांत हो गया।

2264 के बने मास्क न लगाने पर चालान, 39 दुकानें हुई सील
2 हजार 264 लोगों पर मास्क न पहनने पर 2 लाख 36 हजार 80 रुपए का जुर्माना वसूल किया गया। गाइड लाइन का पालन न करने पर 39 दुकानों को सील किया गया। साथ ही 2500 रुपए जुर्माना भी लगाया। सबसे ज्यादा दुकानों को 8 अप्रैल को सील किया। इस दिन 23 दुकानों को सील किया गया जिनमें से 19 अशोकनगर की शामिल रहीं। साथ ही 7 अस्थाई जेल में 67 लोगों को जेल में रखा गया।

लॉकडाउन में इनको मिलेगी छूट: केमिस्ट, राशन दुकान, अस्पताल, पेट्रोल पंप, बैंक, दूध सब्जी, उद्योगों के अधिकारी कर्मचारियों का आवागमन, परीक्षा केंद्र आने जाने वाले, एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड, टीकाकरण के लिए जा रहे लोग।

राहत: गंभीर मरीज नहीं, इसलिए इंजेक्शन और ऑक्सीजन की मारामारी नहीं

जिले में संक्रमण का खतरा बढ़ गया लेकिन राहत वाली बात यह है कि फिलहाल जितने भी पॉजिटिव मरीज है उसमें गंभीर मरीजों का आंकड़ा बहुत कम है। ऐसे मरीजों को सीधे रेफर कर दिया गया। इस कारण फिलहाल जिले में बचाव के लिए लगने वाले रेमडीसिविर इंजेक्शन व ऑक्सीजन की मारामारी की स्थिति नहीं है। जिला अस्पताल में फिलहाल 6 मरीज भर्ती है। ऑक्सीजन की जरूरत गंभीर मरीज को नहीं रहती है। फिलहाल जिले में ऐसा कोई गंभीर मरीज नही आया।
गति को देखते हुए बेड बढ़ाने की आवश्यकता
जिला अस्पताल में 80 मरीजों को भर्ती करने की व्यवस्था है। जिसमे 40 ऑक्सीजन वाले पलंग है और 40 सामान्य। इसके अलावा 125 पलंग वाला आइसोलेशन वार्ड भी तैयार कर लिया गया है। जिला मुख्यालय पर फिर भी अब करीब 500 मरीजों के लिए आइसोलेशन वार्ड की आवश्यकता पड़ सकती है।
फिलहाल 143 एक्टिव केस
जिले में कुल एक्टिव केस 143 हैं। नए संक्रमितों को आज हम क्वारेंटाइन किया जाएगा। गुरुवार को सबसे ज्यादा 43 मरीज मिले।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें