पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आदेश का इंतजार:नपा शुल्क में 2% की छूट की घोषणा से शहरी क्षेत्र की रजिस्ट्रियों में 20% कमी

अशोकनगर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक लाख की प्रॉपर्टी पर 2 हजार का लाभ लेना चाहते हैं लोग

9 दिन पहले रियल स्टेट बाजार में प्रॉपर्टी की खरीदी और बिक्री के लिए 2 प्रतिशत सेस घटाने की घोषणा की गई। आर्थिक मंदी के बीच शहरी क्षेत्रों में लोगों के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की इस घोषणा के बाद नपा शुल्क में एक लाख रुपए पर सीधे 2 हजार रुपए तक की बचत होना है। इस घोषणा के बाद आदेश जारी होने के इंतजार में लाभ लेने के लिए रजिस्ट्रियों की संख्या 20 फीसदी तक घट गई है। उप पंजीयक कार्यालय में मुख्यमंत्री श्री चौहान की सेस में 2 फीसदी की कमी की घोषणा के पहले करीब 33 से 35 रजिस्ट्रियां हो रही थीं, लेकिन घोषणा के बाद अचानक रजिस्ट्रियों की संख्या कम हो गई है। शहरी क्षेत्र में इस छूट का लाभ लेने के लिए विक्रय पत्रों का पंजीयन कम हो रहा है। लोगों को घोषणा के बाद नोटिफिकेशन के बाद छूट मिलने का इंतजार है। हालांकि सोमवार को इस संबंध में गजट नोटिफिकेशन हुआ भी लेकिन मानवीय भूल की वजह से नोटिफिकेशन में कुछ त्रुटि रह गई। इससे आदेश जारी होने में देरी हो सकती है। इधर लोग नपा शुल्क में दो फीसदी छूट लेने के लिए पूर्व निर्धारित विक्रय पत्रों के पंजीयन को नहीं करा रहे हैं। 1 लाख की प्रॉपर्टी पर दो हजार की बचत: नगरीय क्षेत्रों में प्रॉपर्टी की बिक्री और खरीदी पर नपा शुल्क के नाम से स्टाम्प ड्यूटी 3 प्रतिशत ली जा रही थी, लेकिन अब इस ड्यूटी को 1 % ही लिया जाएगा। ऐसे में एक लाख रुपए की प्रॉपर्टी खरीदने और बेचने पर सीधे 2 हजार रुपए तक की बचत होगी। शहरी क्षेत्र में प्रॉपर्टी की खरीदी-ब्रिकी पर इस छूट का विशेष फर्क पड़ेगा। शहरी क्षेत्र में प्रॉपर्टी के दाम अधिक हैं। ऐसे में अगर कोई 10 लाख की प्रॉपर्टी खरीदता है तो उसको 20 हजार की बचत होगी। रियायत सिर्फ 31 दिसम्बर 2020 तक: मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा कोरोना संक्रमण काल में आर्थिक गतिविधियां समाप्त होने के चलते रियल स्टेट बाजार की तरफ लोगों को आकर्षित करने की यह घोषणा की है। हालांकि घोषणा के मुताबिक रियायत सिर्फ 31 दिसम्बर तक रहेगी, लेकिन घोषणा के बाद नोटिफिकेशन में देरी के चलते लोगों को लाभ लेने के लिए कम ही समय मिल पाएगा।

स्टाम्प शुल्क 9.5 प्रतिशत से घटकर हो जाएगा 7.5%
वरिष्ठ उप पंजीयक डीसी बाथम ने बताया कि अभी तक एक लाख रुपए की प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री कराने पर 9.5% स्टाम्प शुल्क और 3% फीस लगती है। यानी एक लाख पर अभी साढ़े 12 हजार रुपए देना होता था। लेकिन इस घोषणा के बाद अब स्टाम्प शुल्क 9.5% से घटकर 7.5% हो जाएगा। ऐसे में एक लाख लाख रुपए पर सीधे 2 हजार रुपए की बचत होगी। इसका लाभ शहरी इलाकों को ही मिलेगा।

जितना देरी करेंगे, उतना लाभ मिलेगा कम
प्रापर्टी विशेषज्ञ एडवोकेट दिलीप शर्मा ने बताया कि इस आदेश की जानकारी क्रेता और विक्रेता को है इसलिए वे विक्रय पत्रों का पंजीयन नहीं करा रहे हैं। घोषणा के बाद नोटिफिकेशन में देरी होने से लोगों को इसका लाभ कम मिल पाएगा, क्योंकि यह छूट सिर्फ 31 दिसम्बर तक दी गई है।
शहरी क्षेत्र की रजिस्ट्रियों में कमी
^नपा शुल्क में दो फीसदी छूट की घोषणा के बाद से शहरी क्षेत्र की रजिस्ट्रियों में कमी हुई है। लोग नोटिफिकेशन जारी होने के बाद आदेश का इंतजार कर रहे हैं। करीब प्रतिदिन 7 से 8 रजिस्ट्रियां आदेश जारी होने के बाद कम हो रही हैं।
डीसी बॉथम, वरिष्ठ उप पंजीयक अशोकनगर।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें