पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

फसलों को नुकसान:20 से 30% तक नुकसान, क्राॅप कटिंग से मिलेगी सही जानकारी

अशोकनगर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • क्राप कटिंग हुई शुरू, कुछ गांव ऐसे भी जहां प्राथमिक रिपोर्ट में 30 से 40 फीसदी तक नुकसान

अशोकनगर तहसील में खरीफ की खराब हुई फसलों की प्राथमिक सर्वे रिपोर्ट आ गई है। इस रिपोर्ट के मुताबिक अधिकांश गांव में 20 से 30 फीसदी तक फसलों को नुकसान हुआ है। हालाकि कई खेतों में 50 फीसदी से अधिक नुकसान भी रिपोर्ट में आया है। इनमें नदी के पास वाले खेतों के अलावा प्राकृतिक नाले जहां से निकलते हैं वहां के आसपास के खेत शामिल हैं। हालाकि फाइनल रिजल्ट के लिए जहां फसलें पक गई हैं वहां क्राप कटिंग शुरू करवाई है। जिसके बाद वास्तविक परिणाम मिल सकेंगे। भारतीय किसान संघ के आंदोलन के बाद कलेक्टर के निर्देश पर जिले की सभी तहसीलों में तहसीलदारों को राजस्व निरीक्षक, पटवारी और कृषि विभाग के आरएओ की संयुक्त दल बनाकर सर्वे के निर्देश दिए थे। इन निर्देशों के बाद टीमों को हर खेत पर पहुंचकर वहां के नुकसान की सर्वे रिपोर्ट बनाना था। अशोकनगर तहसील के 188 गांवों की प्राथमिक सर्वे रिपोर्ट आ गई है। इसमें औसत 20 से 30 फीसदी तक नुकसान मिला है। जो नुकसान हुआ है उसकी वजह अतिवृष्टि, यलो मोजेक, बारिश में नदी और प्राकृतिक नालों का कैचमेंट एरिया के अलावा कीट और अन्य बीमारियों का प्रभाव है।

शुरू हुई क्रॉप कटिंग
प्राकृतिक आपदा की वजह से प्रभावित हुई फसलों के फाइनल रिजल्ट के लिए गांवों में क्राप कटिंग शुरू हो गई है। खेतों पर पहुंचकर दल निश्चित रकबा में से फसल निकालकर आसपास के खेतों की फसलों का उत्पादन निकाल रहे हैं। हालाकि कई खेतों में बाद में बोवनी हुई थी वहां अभी क्राप कटिंग शुरू नहीं हो सकी है।
^हमारी तहसील के 188 गांवों की प्राथमिक सर्वे रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमें प्राथमिक तौर पर 20 से 30 प्रतिशत औसत नुकसान होना आया है। क्राप कटिंग शुरू हो गई है। इसका रिजल्ट आने के बाद ही वास्तविक नुकसान की जानकारी मिल पाएगी।
रोहित रघुवंशी, तहसीलदार

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें