पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पक्षियों की मौत का दूसरा दिन...:30 कौए व चार मुर्गियों की मौत, कलेक्टोरेट में अचेत मिला कौआ

अशोकनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में कौओं के मरने का आंकड़ा पहुंचा 51 पर, कलेक्टर ने बुलाई बर्ड फ्लू से बचाव के लिए बैठक

जिले में दूसरे दिन भी कौए की मौत का सिलसिला जारी रहा। दूसरे दिन एक साथ 30 कौए अलग-अलग जगहों पर मृत मिले। इस तरह जिले में मृत कौए की संख्या 51 हो चुकी है। जबकि पिपरई के गढ़ बावड़ी में एक मृत कौए के साथ 4 मुर्गी भी मृत मिली हैं। इनको यहां फेंका गया है या किसी बीमारी से मौत हुई है इसकी जांच के लिए उनके सैंपल लेकर भोपाल में पशु पालन विभाग भेजेगा। गुरुवार को कलेक्टोरेट में एक कौआ अचेत अवस्था में मिला। पक्षियों की मौत के बाद कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों की बैठक ली जिसमें उन्होंने निर्देश जारी किए। बुधवार को नेहरू डिग्री कॉलेज में मिले पक्षियों के बाद गुरुवार को फिर वन विभाग, पशु चिकित्सा विभाग की टीम पहुंची जहां उन्होंने पीपीई किट पहनकर मृत मिले पक्षियों को दफनाया। पशु पालन विभाग के उप संचालक आरके त्यागी ने बताया कि जिले में पशुपालन के 11 चिकित्सालय व 24 डिस्पेंसरियों में चिकित्सक नियमित ड्यूटी कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि नेहरू कॉलेज में 16, टेलीफोन एक्सचेंज के पास 2, वन विभाग परिसर में 2, ईसागढ़ में 5, सहोदरी में 3, एवं 2 शाढ़ौरा में मृत मिले थे।

कॉलेज में सबसे ज्यादा मिले, छात्र रहे सावधान
नेहरू डिग्री कॉलेज में सबसे ज्यादा छात्र-छात्राओं का आना जाना होता है। परिसर में लगे पेड़ पौधों पर बड़ी संख्या में पक्षी रहते हैं। इस दौरान उनकी असमय हो रही मौत चिंता का कारण है। ऐसे में सबसे ज्यादा अलर्ट रहने की जरूरत है। कॉलेज प्रबंधन को रिपोर्ट न आने तक संबंधित पार्क में छात्रों के प्रवेश को रोक देना चाहिए, जिससे मृत या अचेत पड़े पक्षियों के संपर्क में वे न आ पाएं।

बावड़ी के पास मृत मिली 4 मुर्गी और 1 कौआ
पिपरई | कस्बे के गढ़ी बावड़ी के समीप 1 मृत कौआ और उसके पास में ही 4 मृत मुर्गी मिलीं। जिनकी जानकारी लोगों ने पशु पालन विभाग को दी। हालांकि भी ये स्पष्ट नहीं हो पाया कि किस कारण इन पक्षियों की मौत हुई। पशु पालन विभाग के क्षेत्रीय अधिकारी केके शर्मा ने बताया कि हमें आपके माध्यम से ही जानकारी लगी की कौए के साथ मुर्गी भी मृत मिली हैं। उनके सैंपल हम कराकर जांच के लिए भोपाल भेज रहे हैं।

नहीं आई जांच रिपोर्ट, प्रवासी पक्षी भी हो सकते हैं कारण
बुधवार को मृत मिले कौए की जांच रिपोर्ट फिलहाल नहीं आई है। ऐसे में सावधान रहने की जरूरत है। डीएफओ अंकित पांडेय ने कहा कि इस समय प्रवासी पक्षी अन्य देशों में अधिक ठंड पड़ने के कारण यहां आ जाते हैं, संभवता उनके मृत होने पर हो सकता है कौओं ने उनको खा लिया हो जिससे उनको बर्ड फ्लू की संभावना हो सकती है, लेकिन जब तक जांच रिपोर्ट नहीं आ जाती तब तक कुछ भी स्पष्ट नहीं कहा जा सकता।

कलेक्टर ने बैठक में दिए निर्देश
कलेक्टर अभय वर्मा ने बर्ड फ्लू के बचाव के लिए बैठक ली जिसमें उन्होंने पोल्ट्री फार्मों की साफ सफाई, चिकित्सकों द्वारा नियमित रूप से जांच कराई जाने के निर्देश दिए। मृत पक्षियों के दफनाने के लिए ग्राम स्तर पर ग्राम पंचायतें व शहरी स्तर पर नगरपालिका का दायित्व रहेगा।

कंट्रोल रूम पर दें सूचना
जिला स्तरीय कंट्रोल रूम 07543-220340 रहेगा जिस पर लोग संपर्क कर जानकारी दे सकते हैं। जिले में सावधानी के लिहाज से पशु चिकित्सा विभाग को 50 और नई किट शासन की ओर से भेजी गई हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें