पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पहली बार बिना परीक्षा लिए बोर्ड परिणाम घोषित:दसवीं के सभी विद्यार्थी पास, 30% रिजल्ट देने वाले स्कूल भी 100%

अशोकनगर17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बिना परीक्षा दिए पहली बार बुधवार को माध्यमिक शिक्षा मंडल भोपाल में बोर्ड की कक्षा 10वी का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया। नियमित और प्राइवेट फॉर्म भरने वाले कुल 9751 सभी विद्यार्थियों को पास कर दिया गया। अब तक 65 से 66% रहने वाला परीक्षा परिणाम इस बार 100 प्रतिशत रहा।

कोरोना के कारण इस साल स्कूल की कक्षाएं ही नहीं लगी। बाद में परीक्षा को निरस्त करना पड़ा। मुख्य परीक्षा निरस्त हो जाने के बाद सरकार ने जनवरी के बाद हुए प्री टेस्ट और अर्धवार्षिक परीक्षा के प्राप्तांक में से बेस्ट फाइव के आधार पर रिजल्ट तैयार करने का निर्णय लिया। सभी स्कूल स्तर से तैयार हुए रिजल्ट को ऑनलाइन अपलोड कर दिया।

स्कूलों का परिणाम ऑनलाइन अपलोड हो जाने के बाद बुधवार को माशिमं ने 10वीं का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया। शाम 4 बजे लिंक ओपन होते ही विद्यार्थियों को अपने मोबाइल पर ही परिणाम मिल गया। इस साल यह पहला मौका है जब बोर्ड की कक्षा दसवीं के बच्चों की बगैर परीक्षा लिए पास किया गया हो।

पिछले साल 12 स्कूलों का 30% से कम रहा था रिजल्ट
पिछले साल घोषित हुए परीक्षा परिणाम में जिले के 12 स्कूल ऐसे थे जिनका परिणाम 30% से कम रहा था। इन सभी स्कूलों को डीईओ कार्यालय से नोटिस जारी कर खराब परिणाम देने का कारण भी पूछा गया था। लेकिन इस साल इन स्कूलों में पढ़ने वाले भी सभी बच्चे पास हो गए। ऐसे स्कूलों में हाई स्कूल वीलखेड़ा, भैसरवास, करैया राय, महुअन, रिजोदा, टोडा, खजुरिया कला, थूवोन, रुसल्ला, तगारी, सिरनी और शासकीय हाई स्कूल ओडेर शामिल है।

प्राइवेट फार्म भरने वाले 1097 विद्यार्थी भी पास
जिले में इस साल कुल 9751 बच्चे कक्षा दसवीं में थे। इनमें से 8654 नियमित विद्यार्थी है। जबकि 1097 बच्चों ने दसवीं पास करने के लिए प्राइवेट फार्म भरा था। ऐसे प्राइवेट विद्यार्थियों को भी 33% अंक देकर बोर्ड ने इस साल पास कर दिया। नियमित विद्यार्थियों का परिणाम बेस्ट फाइव के आधार पर तैयार किया गया है।

रिजल्ट से असंतुष्ट विद्यार्थी के लिए परीक्षा देने का मौका
बगैर परीक्षा के घोषित हुए परिणाम से असंतुष्ट विद्यार्थी ऑनलाइन पंजीयन करवा का परीक्षा भी दे सकते हैं। इसके लिए बोर्ड ने पंजीयन कराने से लेकर परीक्षा तक की तारीख तय कर दी है। जिन बच्चों को प्राप्त अंकों से ज्यादा अंक प्राप्त करने की उम्मीद है वे 1 अगस्त से 10 अगस्त तक अपना पंजीयन करवा सकेंगे।

पंजीयन करा लेने वाले सभी विद्यार्थियों की 1 सितंबर से 25 सितंबर के बीच बोर्ड परीक्षा आयोजित कर आएगा। परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर इन विद्यार्थियों का अलग से परिणाम घोषित होगा।

खबरें और भी हैं...