पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

डेड स्टोरेज पर तालाब:सामान्य की तुलना में 46 फीसदी बारिश फिर भी 33 में से 22 बड़े तालाब अभी खाली

अशोकनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शहर का तुलसी सरोवर तालाब ही अभी तक हुआ है फुल
  • तालाबाें से रबी के सीजन में 21 हजार हेक्टेयर में सिंचाई होगी प्रभावित

कहने को तो जिले में अब तक सामान्य औसत की तुलना में 46.68 फीसदी बारिश हो चुकी है लेकिन कई बांध और तालाब अब तक खाली हैं। कुल छोटे-बड़े 33 तालाबों में से 22 में इतनी बारिश होने के बाद भी डेड स्टोरेज लेवल तक पानी नहीं आया है। अगर जिले में बारिश की बेरुखी इसी तरह रही तो इस बार इन तालाबों से 21 हजार हेक्टेयर सिंचाई का रकबा सिंचित नहीं हो सकेगा। मानसून सीजन के दो माह निकल चुके हैं लेकिन तालाबों में पानी नहीं आया है। तालाबों में पानी नहीं आने की वजह अब तक लगातार तेज बारिश न होना है। बारिश के आंकड़े भले ही सामान्य औसत की तुलना में आधे तक पहुंचने वाले हैं लेकिन हकीकत में जिले के जल स्रोतों को लगातार तेज बारिश का इंतजार है। मानसून की आमद के दो माह बाद भले ही जिले में 41 सेमी से अधिक अाैसत बारिश हो चुकी है लेकिन 22 तालाब ऐसे हैं जिनमें पानी डेड स्टोरेज लेवल पर भी नहीं आया है। अगर अब जिले में तेज बारिश नहीं होती है तो इन तालाबों की वजह से इस बार रबी फसल के उत्पादन पर भी सीधा असर पढ़ेगा। क्योकि जिले में 21 हजार हेक्टेयर की फसलें इन तालाब और बांध से निकलने वाली नहरों से सिंचित होती हैं।

अशोकनगर तहसील में अब तक सबसे ज्यादा बारिश
अशोकनगर तहसील में अब तक जिले में सर्वाधिक बारिश हुई है। अधिकांश खाली ताालबा ईसागढ़, मुंगावली और चंदेरी तहसीलों के हैं। अशोकनगर में अब तक सामान्य की तुलना में 66 फीसदी, चंदेरी में 38 प्रतिशत सामान्य की तुलना में बारिश हुई है। जबकि ईसागढ़ और मुंगावली में 41 प्रतिशत सामान्य की तुलना में बारिश हो चुकी है।

जानिए... तालाब भरने चाहिए लगातार बारिश
क्षेत्र में अभी तक तेज बारिश नहीं होने से इन तालाब और बांधों में मिलने वाली नदियां ही सूखी हैं। जब इन तालाबों का जो केचमेंट एरिया है उनके ऊपरी क्षेत्रों में जब तक तेज बारिश का लगातार दौर शुरू नहीं होगा तब तक इन तालाबों में पानी नहीं पहुंचेगा।

ये 22 तालाब, जिनमें डेड स्टोरेज लेवल पर पानी
जिले के जो तालाब बारिश के बाद भी गर्मियाें के सीजन के जैसी स्थिति में हैं उनमें मोहनपुर, नयाखेड़ा, रामनगर, सिंगपुर चाल्दा,विक्रमपुर, भर्रोली, नरसूखेड़ी, पचलाना, श्यामाटोरी, केशोपुर, प्यासी टेंक, फतेहाबाद, कुंवरपुर, अनिराई, अजलेश्वर, सकर्रा, बनेठ, इंदार,छज्जू बरखेड़ा,मूंडरी उमरिया शामिल हैं। इन सभी तालाबों में अभी जलसंसाधन विभाग के आंकड़ों के अनुसार शून्य स्तर पर वॉटर लेवल है।
11 तालाब जिनमें दो टैंक ही 50 फीसदी से अधिक भरे
जिले में शेष 11 तालाबों में भले ही पानी आ गया है लेकिन इनमें भी दो तालाब ही ऐसे हैं जो अभी 50 फीसदी से अधिक भरे हैं। इनमें तुलसी सरोवर फुल हो चुका है जबकि अामाही 63.50 फीसदी भर चुका है। इसके अलावा कोंचा 23.94 फीसदी, मोला 13.25 फीसदी, मढ़ी कानूनगो 45 फीसदी, जमाखेड़ी 38 फीसदी, शहापुर 23.65 फीसदी, कदवाया 18 फीसदी है। जबकि बचे हुए कदवाया फीडर, ढाकोनी, साजनमऊ में 10 फीसदी से कम पानी है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। पिछले कुछ समय से चल रही किसी समस्या का समाधान मिलने से राहत मिलेगी। कोई बड़ा निवेश करने के लिए समय उत्तम है। नेगेटिव- परंतु दोपहर बाद परिस...

और पढ़ें