पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खतरनाक लापरवाही:6 दिन से डायलिसिस बंद, इकलौते टेक्नीशियन छुट्‌टी लेकर मना रहे त्याेहार, मरीजों काे परेशानी

अशोकनगर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • हर हफ्ते दो मशीनों पर होते हैं 22 से 24 मरीजों के डायलिसिस

किडनी के मरीजों के लिए त्योहार खुशियों से अधिक परेशानी लेकर आए हैं। जिला अस्पताल की डायलिसिस यूनिट में पदस्थ एक मात्र टेक्नीशियन त्याेहार मनाने छुट्‌टी लेकर गए हैं। ऐसे में अब मरीजों को कोरोना संक्रमण के दौर में इन्फेक्शन आदि का खतरा उठाकर खुद के खर्चे पर डायलिसिस कराने बड़े शहरों में जाना पड़ रहा है। इनमें कई मरीज ऐसे हैं जिनकी माली हालत ठीक नहीं है उन्हें सबसे अधिक मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। इधर शर्तों के मुताबिक टेक्नीशियन अवकाश पर जाता है तो एनजीओ को दूसरी टेक्नीशियन की व्यवस्था करना जरूरी है। जिला अस्पताल की डायलिसिस युनिट में हर हफ्ते करीब 22 से 24 डायलिसिस होते हैं लेकिन शुक्रवार को डायलिसिस मशीन ऑपरेट करने वाले टेक्नीशियन छुट्‌टी पर चले गए। तब से अस्पताल में किडनी रोगियों की डायलिसिस बंद हो गई। अस्पताल प्रबंधन ने डायलिसिस यथावत चालू करवाने के लिए गुना अस्पताल के टेक्नीशियन से संपर्क किया लेकिन वहां भी दो तब से डायलिसिस बंद होने से जिले के मरीजों को मशीनें शुक्रवार से बंद हैं। अब मरीजों को मजबूरी में संक्रमण में अन्य शहरों में जाना पड़ रहा है।

नियम... दूसरा टेक्नीशियन उपलब्ध कराने की जवाबदारी जानकारी के मुताबिक जिस एनजीओ के पास डायलिसिस यूनिट संचालन की कमाण्ड हैं। टेक्नीशियन की अनुपस्थिति में दूसरे टेक्नीशियन उपलब्ध कराने की जवाबदारी एनजीओ पर है। लेकिन 6 दिनों से टेक्नीशियन छुट्‌टी पर रहते हुए त्याेहार मना रहा है वहीं दूसरी तरफ संबंधित कंपनी के अधिकारियों को अस्पताल प्रबंधन द्वारा फोन लगाने पर भी दूसरे टेक्नीशियन की व्यवस्था नहीं करवा पा रहे हैं।

समाधान... एक मशीन बढ़ी तो दो टेक्नीशियन रखना जरूरी
जिला अस्पताल में फिलहाल दो ही मशीन हैं। इनका संचालन एक टेक्नीशियन कर रहा है लेकिन अगर एक मशीन और बढ़ाई जाती है तो मजबूरी में कंपनी को दो टेक्नीशियन पदस्थ करना पड़ेगा। इसके लिए स्थानीय स्तर पर जनप्रतिनिधियों के माध्यम से प्रपोजल तो भेजा गया है लेकिन अभी तक स्वीकृति नहीं मिली है।

एक माह पहले ही 6 दिन का लिया था अवकाश तब गुना से बुलाते थे
टेक्नीशियन के छुट्‌टी पर जाने का पहला मामला नही है। इससे पहले भी वे 6 दिन की छुट्टी पर पिछले माह गए थे। हालाकि तब अशोकनगर अस्पताल प्रबंधन द्वारा सुबह वाहन भेजकर गुना से टेक्नीशियन बुलाए जाते थे और शाम को फिर उनको वाहन छोड़ने जाता था। लेकिन इस बार गुना में भी दो टेक्नीशियन अवकाश पर हैं।
जानिए, जरूरतमंदों की पीड़ा, जाना पड़ रहा बाहर
^हफ्ते में दो बार डायलिसिस होता है। शुक्रवार से डायलिसिस बंद है। आज 3500 रुपए की किराए की गाड़ी की है भोपाल जाने के लिए। भोपाल रेड जोन में है लेकिन हमारी मजबूरी है। इन्फेक्शन से लेकर कोविड-19 संक्रमण का खतरा है। रिस्क अधिक हैं लेकिन उससे अधिक हमारी मजबूरी है। सभी डायलिसिस मरीजों को इसी तरह परेशानी उठाना पड़ रही है। फिर भी हमारी समस्या पर जिम्मेदारों ने ध्यान नहीं दिया है।
-नरेन्द्र साहू, डायलिसिस मरीज।
^हमने संबंधित एनजीअाे के प्रंबधक से बातचीत की है। लेकिन उन्होंने अभी तक दूसरे टेक्नीशियन की व्यवस्था नहीं की है। गुना से भी कोई टेक्नीशियन उपलब्ध नहीं हो पा रहा है।
-डा. हिमांशु शर्मा, सिविल सर्जन।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर के बड़े बुजुर्गों की देखभाल व उनका मान-सम्मान करना, आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। राजनीतिक संपर्क आपके लिए शुभ अवसर प्रदान करेंगे। आज का दिन विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बहुत ही शुभ है। उनकी ...

और पढ़ें