मनरेगा पर उठे सवाल / जनपद सदस्य बोले-मनरेगा में मजदूरों की जगह पर मशीनों से कराया काम, इसलिए नहीं मिला रोजगार

X

  • मनरेगा के तहत किए जा रहे कार्य विवादों में पड़ते दिख रहे हैं
  • ये निर्माण कार्य मजदूरों से कराए जाने थे ताकि उनको रोजगार मिल पाए

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

अशोकनगर. मनरेगा के तहत किए जा रहे कार्य विवादों में पड़ते दिख रहे हैं। ये निर्माण कार्य मजदूरों से कराए जाने थे ताकि उनको रोजगार मिल पाए, लेकिन ग्राम पंचायत डोंगरा पछार में ऐसा नहीं हो रहा। खुद जनपद सदस्य के आरोप है कि मजदूरों की जगह ये कार्य मशीनरी की मदद से कराए जा रहे हैं।
ग्राम पंचायत डोंगरा पछार में स्टॉप डेम, कंटूर ट्रंच निर्माण, खेल मैदान सहित अन्य कार्य स्वीकृत हुए थे, लेकिन फिलहाल ये कार्य अधूरे ही पड़े हैं। स्टॉप डेम पर अब तक गेट ही नहीं लगा। कंटूर ट्रंच और खेल मैदान का कार्य अधूरा पड़ा है। जनपद सदस्य बादल सिंह ने बताया कि डोंगरा पछार में कोई विकास कार्य नहीं हो रहे। 
जो काम हो रहे हैं उसे मिलीभगत से मशीनों की मदद से किए जा रहे हैं। किसी भी मजदूर को काम नहीं मिला। फर्जी मस्टर्ड भरकर राशि निकाली जाती है। मैंने शिकायत की थी लेकिन कोई कार्रवाई ही नहीं की जाती। अखेबर में मनीराम कुशवाह ने खेल मैदान बनाया था जिसे पंचायत ने अपना बता दिया। पंचायत सचिव दीपेश जैन ने बताया कि मैंने अभी कुछ माह पहले ही चार्ज लिया है। मेरे कार्यकाल में मशीनों से काम नहीं कराया गया। मजदूरों से ही कार्य कराए गए हैं।
प्रमोद सिंह, सीईओ जनपद अशोकनगर के मुताबिक, मैं कल पंचायत इंस्पेक्टर को भिजवाकर जांच करवाऊंगा। अगर किसी तरह की गड़बड़ी की गई है तो कार्रवाई की जाएगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना