पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जमीन के टुकड़े के लिए रिश्तों का क़त्ल:चंदेरी में जमीनी विवाद के चलते छोटे भाई ने बड़े भाई और भतीजे को उतरा मौत के घाट; कुल्हाड़ी से काट डाली गर्दन, आरोपी गिरफ्तार

अशोकनगर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शव को जिला अस्पताल में उतारते परिजन - Dainik Bhaskar
शव को जिला अस्पताल में उतारते परिजन

अशोकनगर जिले के चंदेरी क्षेत्र में जमीन के जरा से टुकड़े के लिए छोटे भाई द्वारा अपने बड़े भाई और भतीजे की हत्या का मामला सामने आया है। इस वारदात के बाद पूरे गांव में सनसनी फ़ैल गयी। आरोपी काफी देर तक खून से सनी कुल्हाड़ी लेकर पूरे गांव में घूमता रहा। देर शाम पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही हत्या में उपयोग की गयी कुल्हाड़ी को भी जप्त कर लिया है।

चंदेरी से 35 किमी दूर जम्मूसर गांव में धनवा और मोहन अहिरवार की 6 बीघा जमीन है। लम्बे समय से दोनों संयुक्त रूप से जमीन को ठेके पर देकर खेती करवाते हैं। इस बार बड़े भाई धनवा अहिरवार ने अपने हिस्से की जमीन को ठेके पर न देकर खुद खेती करना शुरू कर दिया। उसका छोटा भाई मोहन अभी भी अपने हिस्से की जमीन को थेहे पर देकर खेती करवा रहा है। दोनों में जमीन को लेकर किसी बात पर झगड़ा चल रहा था।

मंगलवार को छोटे भाई मोहन की सर पर खून सवार हो गया। सबसे पहले उसने बड़े भाई के बेटे और अपने भतीजे सुरेश को निशाना बनाया। सुरेश अहिरवार(30) अपनी बेटी को लेकर किरणे की दूकान की तरफ जा रहा था। तभी बिजली के ट्रांसफार्मर के पीछे छुपे मोहन ने चुपके से पीछे से आकर सुरेश की गर्दन पर कुल्हाड़ी से वार कर दिया। इससे सुरेश जमीन पर गिर पड़ा। बची भी उसकी गोद में से जमीन पर गिर गयी। इसके बाद भी मोहन नहीं रुका। उसने सुरेश की गर्दन, पीठ और हाथ पर लगातार वार किये। वह तब तक वार करता रहा जब तक गर्दन और हाथ काटकर अलग नहीं हो गए। सुरेश ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

इसके बाद वह सीधे अपने बड़े भाई धनवा के घर पहुंचा। यहाँ उसने अपने बड़े भाई धनवा अहिरवार(60) की गर्दन व सीने में कुल्हाड़ी से कई वार किये। इससे उनकी भी मौके पर ही मौत हो गयी। वह अपनी भाभी को भी तलाशता रहा, लेकिन उसके सर पर खून सवार देखकर वह पहले ही घर से भाग गयीं। गांव के किसी घर में बमुश्किल छुपकर उन्होंने अपनी जान बचायी।

खून से सनी कुल्हाड़ी लेकर गांव में घूमता रहा
आरोपी मोहन अपने भाई और भतीजे की हत्या करने के बाद काफी देर तक खून से सनी कुल्हाड़ी लिए गांव में घूमता रहा। इस दोहरे हत्याकांड से गांव में दहशत फ़ैल गयी। ग्रामीणों ने बताया की इस हत्याकांड को अंजाम देने से पहले भी सुबह मोहन करीब एक घंटे तक गांव में उत्पात मचाता रहा था। भतीजे की हत्या के बाद भी वह बेख़ौफ़ घूमते हुए अपने बड़े भाई के घर की और गया। वे कुछ समझ पाते इससे पहले ही मोहन ने उनकी भी हत्या कर दी।

चंदेरी थाना प्रभारी उपेंद्र भाटी ने बताया की टोडा नयी बस्ती में यह वारदात हुई है। यहाँ मोहन पुत्र मोजी अहिरवार ने अपने बड़े भाई और भतीजे की जमीन के विवाद में कुल्हाड़ी से हत्या कर दी है। सुबह 6-7 बजे के बीच में यह घटना हुई। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँच गयी। थोड़ी देर बाद ही आरोपी मोहन को गिरफ्तार कर लिया गया। उसके कब्जे से हत्या में इस्तेमाल की गयी कुल्हाड़ी भी जप्त कर ली गयी है।

खबरें और भी हैं...