पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कृषि बिल का विरोध:दो घंटेे सड़क पर बैठे किसान, साइड से निकले वाहन,एक घंटे रोका पूरा ट्रैफिक

अशोकनगर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ ने टोल नाके के पास लगाया जाम

दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन का असर शनिवार को जिले में भी देखने को मिला। राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ के सदस्य तीन घंटे तक विदिशा रोड पर टोल नाके के पास सड़क पर ही बैठे रहे। दोपहर 12 से 3 बजे तक होने वाले चक्काजाम में शुरुआत के दो घंटे किसान नेताओं ने वाहन चालकों को साइड से निकलने की छूट दे दी। इसके बाद दोपहर 2 से 3 बजे तक पूरी तरह से चक्काजाम कर दिया। इसी दौरान भाजपा सांसद डॉ. के.पी. यादव के छोटे भाई अजय पाल ने अपने सांसद भाई की चुप्पी को सरकार का दबाव होना बता डाला। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि मेरे भाई पर पार्टी का प्रेशर होगा, लेकिन अपने जमीर से बात करना चाहिए। एक किसान होने के नाते हमारी भी आत्मा दर्द करती है। हालांकि इसके जवाब में सांसद यादव ने कहा कि मेरे भाई द्वारा जो बात कही गई है, वह महज एक पॉलिटिकल स्टंट मात्र है। उन्होंने जो कहा वह उनके विचार हैं। मेरा इससे कोई लेना-देना नहीं है, न ही दबाव जैसी कोई बात है।

आमरण अनशन का अल्टीमेटम दे डाला
विदिशा रोड टोल नाके से 100 मीटर की दूरी पर दोपहर 12 बजेे चक्काजाम के लिए फर्स बिछाकर आंदोलन की शुरुआत की। दोपहर 2 बजे के बाद पूरी तरह से चक्काजाम कर दिया। वाहनों को भी रोक दिया गया। इस दौरान पुलिस से हल्की झूमा झटकी भी हुई। महासंघ के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष अभिषेक रघुवंशी ने बताया कि 15 दिनों में समस्याएं हल नहीं हुईं तो आमरण अनशन पर बैठेंगे।

आमने-सामने

उन पर पार्टी का प्रेशर है
^हमारे जिले को कोई भी मुआवजा नहीं मिला है। सांसद, राज्यसभा सांसद, एक राज्यमंत्री और विधायक ये चारों हैं। किसी ने भी मुआवजे की बात कही क्या? ये किसानों के लिए क्या कर रहे हैं? मैं सांसद जी का छोटा भाई हूं। एक किसान होने के नाते आत्मा दर्द करती है, उन पर पार्टी का प्रेशर हाेगा पर अपने जमीर से बात कर हमारे लिए क्या कर रहे हैं?
अजय पाल, सांसद के भाई

बयान राजनीतिक स्टंट
^ कृषि में किसानों के लिए कानून सभी पार्टी लाना चाह रही थी, लेकिन वे ऐसा कर नहीं सके। अब भाजपा बिल लेकर आई है, इसलिए सबके पेट में दर्द है। उन्होंने कहा कि जब भी मुझे मौका मिला है मैंने किसानों की आवाज उठाई है। शायद ही ऐसा कोई सत्र होगा जिसमें मैंने किसानों की बात नहीं रखी। मेरा भाई जो कह रहा है वह राजनीतिक स्टंट है।
डॉ.केपी यादव, सांसद

किसान नेताओं ने कांग्रेस नेताओ को हटाया
किसान महासंघ के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष अभिषेक रघुवंशी ने कांग्रेस जिलाध्यक्ष से कह दिया कि भाई साहब आपको पहले ही यहां आने से मना कर दिया था। फिर भी आप आ गए और आगे बैठ गए। इस पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष कार्यकर्ताओं के साथ पीछे चले गए। किसान नेता रघुवंशी ने कहा कि यह आंदोलन किसानों का है। हमें इसका राजनीतिकरण नहीं करना।कानून व्यवस्था बनाने के लिए 5 थानों व एक चौकी की पुलिस तैनात रही।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें