पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Ashoknagar
  • Fire In The Hut ... The Family And The Three People Engaged In Pouring Water, But The Sister Of The Three month old Brother Trapped Inside

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हादसा:झोपड़ी में आग...परिवार और पड़ाेसी पानी डालने में जुटे पर अंदर फंसे तीन माह के भाई को बहन ने निकाला

अशोकनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • न्यू दुर्गा कॉलोनी में आगजनी का कारण अज्ञात, दमकल पहुंचने से पहले लोगों ने पा लिया काबू

नवीन कृषि उपज मंडी से लगी न्यू दुर्गा कॉलोनी में उस वक्त सनसनी फैल गई जब एक झोपड़ी से अचानक ही आग की तेज लपटें निकलने लगी। हर काेई आग बुझाने के लिए अपने घर से पानी की बाल्टी लाकर डाल रहा था। इस दौरान घर के सभी सदस्य तो बाहर निकल आए पर 3 महीने का मासूम अंदर की रह गया था जिसके रोने की आवाज सुनकर उसकी बहन अपनी जान की परवाह किए बिना ही आग लगे कमरे में घुस गई और रो रहे अपने भाई को सीने से लगाकर बाहर निकाल लाई। नवीन कृषि उपज मंडी से लगकर न्यू दुर्गा कॉलाेनी बनी है। जहां इंद्रभान यादव अपने बेटे सास सिंह और बहू वर्षा यादव के साथ कच्ची टपरिया बनाकर रहता है। उसके पास ही उनके भाई माखन यादव का मकान है। मंगलवार शाम इंद्रभान व उसका बेटा घर पर नहीं थे। 3 महीने का बच्चा रो रहा था जिसे उसकी मां वर्षा चुप कराने लगी, तभी चिट-चिट जैसी आवाज उसे सुनाई दी, जब उसने कमरे की ओर देखा तो आग की लपटें दिखाई दी। बच्चे को उसी जगह छोड़कर पानी डालते हुए पड़ोसियों को मदद के लिए चिल्लाने लगी। मदद करने लोग पहुंच गए और अपने घर से पानी की बाल्टी भरकर आग बुझाने लगे। कुछ लोग मिट्टी डालकर आग पर काबू पाने का प्रयास करने लगे। इस बीच लोगों ने फायर बिग्रेड को सूचना दी लेकिन आधे घंटे देरी से फायर बिग्रेड पहुंची, तब तक आग बुझ चुकी थी।

भाई के रोने की आवाज आ रही थी, मुझसे रहा नहीं गया, मैं अंदर चली गई
आग बढ़ती ही जा रही थी। चाची और आसपास के लाेग पानी भरकर आग बुझा रहे थे। जब मैं आई ताेे अंदर से चाची के 3 महीने के बच्चे (भाई) के रोने की आवाज आ रही थी। सब लोग आग बुझा रहे थे, मैं एकदम से दाैड़ लगाकर अंदर घुस गई, जहां वो रो रहा था, वहां पहुंची। वहां पर चारों तरफ आग ही आग थी। उसेे सीने से लगाकर बाहर निकालकर ले आई। -जैसा 3 महीने के बच्चे को बाहर निकालकर लाई, उसकी बहन अर्चना पुत्री माखन यादव 12 साल ने बताया।

आगजनी के दो कारण : नीची बिजली लाइन, नपा का ट्रेंचिंग ग्राउंड
जिस जगह झोपड़ी में आग लगी वहां आगजनी की घटना के दो कारण हो सकते हैं। सबसे बड़ा कारण बिजली की नीची लाइन है, जो यहां लगी बांस की बल्लियों, तारों से बंधी हुई है। संभवत: शॉर्ट सर्किट से आग लग सकती है। वहीं दूसरा सबसे बड़ा कारण इस कॉलोनी का ट्रेंचिंग ग्राउंड के पास होना है। ट्रेंचिंग ग्राउंड पर अक्सर कचरे को जलाया जाता है जहां से उड़कर कचरा आसपास उड़ता रहता है।
सबकुछ उजड़ गया
आगजनी की घटना के बाद वर्षा यादव ने राेते हुए बताया कि मैं तो आग बुझाने में लग गई थी और भूल ही गई थी कि कमरे में बेटा छोड़ आई। मेरी तो गृहस्थी पूरी तरह जल गई। अब न ताे खाने कुछ बचा है न ही ओढ़ने बिछानेे को। 5 हजार रुपए नगद, गाड़ी खरीदी थी, वो भी जल गई।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें