उपचुनाव / टिकट के लिए ग्रीन जोन से रेड जोेन भोपाल में जा रहे कांग्रेसी नेता, वरिष्ठों से मिलकर पेश कर रहे अपनी-अपनी दावेदारी

For the ticket, Congress leaders going from Green Zone to Red Zone Bhopal, presenting their claim to meet their seniors
X
For the ticket, Congress leaders going from Green Zone to Red Zone Bhopal, presenting their claim to meet their seniors

  • कोरोना के चलते ठंडी पड़ी राजनीति फिर गरमाई, टिकट के लिए भागदौड़ शुरू
  • बड़ा सवाल: रेड जोन में गए नेता वापस आकर 14 रहेंगे क्वारेंटाइन में
  • सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने के बाद अब भाजपा के दावेदारों को टटोल रही कांग्रेस

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

अशोकनगर. कोरोना की वजह से ठंडी पड़ी जिले की राजनीति फिर गरमाने लगी है। जिले की अशोकनगर और मुंगावली सीट पर उपचुनाव होने हैं। ऐसे में ग्रीन जोन अशोकनगर से रेड जोन भोपाल टिकिट की दावेदारी पेश करने के लिए कांग्रेसी नेता वरिष्ठ  नेताओं से मिलने जा रहे हैं। एक तरफ जहां कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामने वाले दोनों विधायकों का टिकट लगभग तय माना जा रहा है फिर भी पार्टी से कई प्रबल दावेदार सांठगांठ में जुड़े हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में जाने के बाद कांग्रेस में जो कार्यकर्ता बचे हैं वे अपने स्तर पर आलाकमान के पास पहुंचकर उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं। शुक्रवार को जिले से भोपाल गए नेताओं की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल भी होती रहीं।
आगामी विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा की तरफ से दोनों सीटों के प्रत्याशी लगभग तय हैं, लेकिन इन दोनों विधानसभाओं में टिकट की आस में सालों से पार्टी के झंडे-डंडे उठा कार्यकर्ता अपने स्तर पर वरिष्ठ नेताओं से संपर्क बनाए हुए हैं। जहां अशोकनगर में पूर्व विधायक लड्‌डूराम कोरी, भाजपा नेता हरि बाबू राय 2018 के विधानसभा चुनाव में अपनी दावेदारी कर चुके थे उनकी उम्मीदें कांग्रेस विधायक जज पाल सिंह जज्जी के इस्तीफा देने के बाद भाजपा ज्वाइन करने से कम हो गई है। वहीं दूसरी तरफ इसी चुनाव में कांग्रेस की तरफ से दावेदारी करने वाली आशा दोहरे, अमित तामरे, त्रिलोक अहिरवार, रमेश इटौरिया ने की थी, लेकिन सूत्रों की मानें तो इस बार भाजपा की तरफ से दावेदारी करने वाले कई नेता कांग्रेस के दोनों पूर्व मुख्यमंत्रियों के संपर्क में हैं जो समय आने पर टिकट को लेकर भाजपा का दामन छोड़ सकते हैं।

इधर मुंगावली में कांग्रेस पार्टी के दावेदारों की लिस्ट हुई लंबी, जोड़ तोड़ जारी

अशोकनगर की तरफ मुंगावली विधानसभा सीट पर कांग्रेस से इस्तीफा देकर आए बृजेन्द्र सिंह यादव का नाम तय है। लेकिन इसके बाद भी जिपं अध्यक्ष बाईसाहब यादव, जनपद अध्यक्ष जगन्नाथ सिंह यादव के नाम पिछले विधानसभा चुनाव में टिकट की दौड़ में शामिल रहे हैं। हालाकि पिछली बार सांसद डाॅ. केपी यादव को मुंगावली से विधानसभा प्रत्याशी भाजपा ने बनाया था, लेकिन इस बार समीकरण बदले होने की वजह से कांग्रेस से टिकट की मांग करने वालों में दूसरे विधानसभा क्षेत्रों के कार्यकर्ता भी टिकट की मांग कर रहे हैं। सूत्रों की माने तो कांग्रेस भी भाजपा की तरह जोड़-तोड़ की राजनीति करते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं में से किसी को अपना प्रत्याशी बना सकती है।

सांसद डॉ केपी यादव के भाई अजयपाल सिंह के कांग्रेसी दिग्गजों से मिलने की चलती रहीं चर्चाएं

जिले में राजनीतिक घटनाक्रम के बीच शुक्रवार को सोशल मीडिया पर सांसद डाॅ. केपी यादव के छोटे भाई अजयपाल सिंह यादव के भोपाल में पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेताओं से मुलाकात की चर्चाएं चलती रहीं। इस बारे में जब हमने सांसद के भाई अजयपाल से संपर्क करने की कोशिश की तो उनसे बातचीत नहीं हो सकी।
ये भी उठा सवाल कि जो नेता भोपाल गए, वापस आकर 14 दिन क्वारेंटाइन पर रहेंगे क्या
दो दिन पहले पूर्व विधायक श्री जज्जी और श्री यादव भोपाल में मुख्यमंत्री से मिले थे। वहीं शुक्रवार को भी कई कांग्रेसी नेता दोनों पूर्व मुख्यमंत्री सहित पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह से मिले। अब ऐसे में शहर में चर्चाएं हैं कि भोपाल रेड जोन में शामिल है, ऐसे में वापस आकर इन नेताओं को 14 दिन क्वारेंटाइन पर रखा जाएगा या नहीं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना