पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शरद पूर्णिमा:पूर्णिमा का चांद सामान्य से ज्यादा बड़ा दिखेगा

अशोकनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इस बार शरद पूर्णिमा 30 अक्टूबर को शाम 5.49 बजे से शुरू होगी, जो 31 अक्टूबर को रात 8.18 बजे तक रहेगी। ऐसे में शरद पूर्णिमा का महोत्सव 30 अक्टूबर को और व्रत 31 अक्टूबर को रहेगा। इस बार अधिकमास होने से पूर्णिमा का चांद सामान्य से ज्यादा बड़ा दिखाई देगा। पंडित किशनलाल मिश्र ने बताया कि इस समय गुरु धनु में और शनि मकर में स्वयं राशि पर रहेंगे। सूर्य, तुला, शुक्र कन्या राशि में नीच राशि पर रहेंगे। ऐसे संयोग में पूर्णिमा की रात को माता लक्ष्मी, चंद्रमा और देवराज इंद्र का पूजन रात में करने से दरिद्रता दूर होगी। समुद्र मंथन से निकले 14 रत्नों में से एक चंद्रमा को मानते हैं। इस दिन भगवान चंद्रदेव की पूजा गंध, पुष्प, धूप, दीप, नैवेद्य, तांबुल, सुपारी से की जाती है। शरद पूर्णिमा को चंद्रमा काे अर्घ्य देकर और पूजन के बाद चंद्रमा को खीर का भोग लगाना चाहिए। रात 10 बजे से 12 बजे तक चंद्रमा की किरणों का तेज अधिक रहता है। खीर के बर्तन को खुले आसमान में रखना फलदायी होता है, इससे खीर में औषधीय गुण आ जाते हैं और वह मन, मष्तिक व शरीर के लिए अत्यंत उपयोगी मानी जाती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें